Afghanistan में जायजा ले रही थी महिला रिपोर्टर, Taliban के लड़ाके ने दिया ये जवाब
X

Afghanistan में जायजा ले रही थी महिला रिपोर्टर, Taliban के लड़ाके ने दिया ये जवाब

तालिबान का दावा है कि वो नए शासनकाल में महिला अधिकारों को सुरक्षा देगा लेकिन सच्चाई इससे बिल्कुल अलग है. तालिबान के सत्ता हासिल करने की खबरें सामने आते ही शहर के व्यापारियों ने दीवारों पर लगे महिलाओं के पोस्टर और अन्य विज्ञापन हटा दिये थे. 

Afghanistan में जायजा ले रही थी महिला रिपोर्टर, Taliban के लड़ाके ने दिया ये जवाब

काबुल: अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबानी कब्जा होने से पहले ही परेशान करने वाली खबरें आ रही थीं. तालिबानी शासन के दौरान महिलाओं की हालत को लेकर जताई गई आशंकाएं सच साबित होती दिख रही हैं. पहले देश में 12 साल से बड़ी बच्चियों और 40 साल से कम उम्र की विधवाओं की सूची मांगी गई ताकि उनकी शादी तालिबानी लड़ाकों से कराई जा सके.

महिलाओं को सेक्स स्लेव बनाने जैसी खबरों के बीच काबुल एयरपोर्ट के नजदीक बिना बुरका पहने एक महिला दिखी तो उसे गोली मार दी गई. अब अमेरिकी न्यूज चैनल CNN की महिला रिपोर्टर क्लारिसा वार्ड की तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें आतंकवादी क्लारिसा वार्ड से कह रहा है कि तुम महिला हो इसलिए चुपचाप किनारे खड़ी रहो. 

'समझिए कैसे हैं हालात'

देश छोड़ने को लेकर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल और सीमावर्ती जिलों में भगदड़ मची है. हालात का जायजा लेने के लिए कई विदेशी पत्रकार काबुल में है. CNN की चीफ इंटरनेशनल करेस्पांडेंट क्लारिसा की ये वायरल तस्वीर तालिबानी कब्जा होने के 24 घंटे पहले की है. जिसमें वो बेहद साधारण कपड़ों में हैं लेकिन उनका सिर नहीं ढका है. दूसरी फोटो में वो बुरका पहनकर रिपोर्टिंग कर रही हैं जिसमें सिर्फ चेहरा दिखा रहा है. ये दोनों तस्वीरें अब वायरल हैं. टि्वटर के यूजर्स तो दोनों तस्वीरों की तुलनाकर अफगानिस्तान में महिलाओं की हालात का अंदाजा लगा रहे हैं. 

ये भी पढ़ें- Taliban की क्रूरता की पहली निशानी आई सामने, पार की सारी हदें

ग्राउंड जीरो पर मिली नसीहत

क्लारिसा ने रिपोर्टिंग के दौरान अफगान लड़ाकों से स्मोकिंग पर बैन और दाढ़ी को अनिवार्य किए जाने से संबंधी सवाल पूछ रही हैं. जिसके जवाब में एक तालिबानी कहता है कि कुछ भी जबर्दस्ती और तुरंत लागू नहीं किया जाएगा. ठीक इसी समय एक तालिबानी लड़ाका क्लारिसा से चुपचाप किनारे खड़े होने के लिए कहता है क्योंकि वह एक महिला हैं.

cnn repo

ये भी पढ़ें- Afghanistan में तालिबान की मजबूती से बढ़ी चिंता, लड़कियों को Sex Slave बनाने की तैयारी: रिपोर्ट

बाजारों से हटे महिलाओं से संबंधित विज्ञापन

हालांकि तालिबान का दावा है कि वो इस नए शासनकाल में महिला अधिकारों को सुरक्षा और प्राथमिकता देगा. लेकिन सच्चाई इससे बिल्कुल अलग है. तालिबान के सत्ता हासिल करते हुए शहर के व्यापारियों ने दीवारों पर लगे महिलाओं के पोस्टर और अन्य विज्ञापन हटा दिये थे. 

(इनपुट सीएनएन से)

LIVE TV

Trending news