भारत-पाकिस्तान के तल्ख रिश्तों से चिंतित है अमेरिका, ब्रिटेन के सुरक्षा सलाहकार से की चर्चा

विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पालाडिनो ने बताया कि पोम्पिओ और सेडविल ने अमेरिका और ब्रिटेन के विशेष संबंधों को मजबूत करने और वैश्विक चुनौतियों का सामना करने में सहयोग को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दोहराई.

भारत-पाकिस्तान के तल्ख रिश्तों से चिंतित है अमेरिका, ब्रिटेन के सुरक्षा सलाहकार से की चर्चा
अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ . (फोटो साभार : Reuters)

वॉशिंगटन: अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने ब्रिटेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मार्क सेडविल से भारत और पाकिस्तान की मौजूदा स्थिति और दोनों दक्षिण एशियाई पड़ोसी देशों में तनाव कम करने के प्रयासों पर चर्चा की. विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पालाडिनो ने बताया कि पोम्पिओ और सेडविल ने अमेरिका और ब्रिटेन के विशेष संबंधों को मजबूत करने और वैश्विक चुनौतियों का सामना करने में सहयोग को लेकर अपनी प्रतिबद्धता दोहराई.

परमाणु देशों के बीच तनाव कम करना चाहता है अमेरिका
विदेश मंत्रालय ने अनुसार, यह वार्ता इस बात को दर्शाती है कि अमेरिका दो परमाणु देशों के बीच तनाव कम करने के लिए अपने संसाधनों का इस्तेमाल करना जारी रखेगा. पालाडिनो ने एक बयान में कहा कि विदेश मंत्री माइकल आर पोम्पिओ ने ब्रिटेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मार्क सेडविल से आज मुलाकात कर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने सहित कई वैश्विक प्राथमिकताओं पर चर्चा की.’’ 

पुलवामा हमले के बाद बढ़ा भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव
गौरतलब है कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद से भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है. इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे, जिसकी जिम्मेदारी पाकिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी.

डोनाल्ड ट्रंप भी जता चुके हैं चिंता
बता दें कि इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी भारत-पाकिस्तान के रिशतों पर चिंता जाहिर की थी. ट्रंप ने अपने बयान में कहा है कि भारत और पाकिस्तान के बीच बेहद खराब हालात हैं. ट्रंप ने कहा था कि अमेरिकी प्रशासन दोनों देशों (भारत-पाकिस्तान) के संपर्क में है. उम्मीद है भारत-पाक दुश्मनी जल्द खत्म होगी. इसके पहले 20 फरवरी को भी ट्रम्प ने भारत-पाक के संबंधों को भयावह स्थिति करार दिया था.

Input: Bhasha