मंदाकिनी की वजह से कपूर खानदान में आई थी दरार, आपस में भिड़ बैठे थे पिता और बेटे

मंदाकिनी की नीली आंखें और रूप-रंग जो भी एक बार देखता था बस देखता ही रह जाता था. अपने करियर की शुरूआत में उन्होंने तेजी से शोहरत और सफलता की बुलंदियां छूईं. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jul 30, 2021, 10:17 AM IST
  • मंदाकिनी के लिए अपने ही पिता से भिड़ गए थे राजीव कपूर
  • एक्ट्रेस के कारण खराब हुए राजीव और उनके पिता के रिश्ते
मंदाकिनी की वजह से कपूर खानदान में आई थी दरार, आपस में भिड़ बैठे थे पिता और बेटे

नई दिल्ली: 'राम तेरी गंगा मैली' फेम खूबसूरत अदाकारा मंदाकिनी (Mandakini) तो आपको याद हो होगी. बॉलीवुड की 80 दशक की एक्ट्रेस मंदाकिनी ने अपनी बोल्ड और दिलकश अदाओं से रातों-रात लोगों की नींदे उड़ा दी थीं. एक्ट्रेस की रंगत का जादू ही कुछ ऐसा चला था कि सभी उनकी बोल्डनेस के दीवाने हो गए थे. इनकी ग्लैमरस अदाओं ने लाखों दिलों पर कब्जा कर लिया था.

बोल्ड सीन की वजह से लाइमलाइट में आईं मंदाकिनी 

मंदाकिनी ने कई फिल्मों में बोल्ड सीन दिए और वह लाइमलाइट में आ गईं. उन्होंने राज कपूर की फिल्म 'राम तेरी गंगा मैली' में अपने अभिनय से लाखों दर्शकों को अपना दीवाना बना लिया था.

'राम तेरी गंगा मैली' में मंदाकिनी के साथ बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता राजीव कपूर नजर आए थे, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि मंदाकिनी के लिए राजीव कपूर अपने ही पिता से लड़ भी गए थे.

मंदाकिनी के लिए अपने पिता से ही लड़ गए थे राजीव

मंदाकिनी के साथ-साथ राजीव कपूर को भी फिल्म राम तेरी गंगा मैली से ही पहचान मिली. इस फिल्म को उनके ही पिता राज कपूर ने बनाया था. बता दें कि मंदाकिनी को इसी फिल्म से पॉपुलैरिटी मिली. वो इस वजह से रातोंरात स्टार बन गई थीं.

वहीं, राजीव कपूर को भी राम तेरी गंगा मैली से ही पहचान मिली, हालांकि वह मंंदाकिनी जैसा मुकाम हासिल नहीं कर पाए.

ये भी पढ़ें- अध्ययन सुमन ने बताया कब टूटा था उनका दिल, इसलिए अब चुना ये रास्ता

कुछ मीडिया रिपोर्ट की मानें तो कहा जाता है कि इसी बात को लेकर राजीव कपूर की अपने ही पिता से अनबन भी हो गई थी.

मंदाकिनी के कारण राजीव कपूर और उनके पिता के रिश्ते खराब हो गए थे, नाराजगी इतनी थी कि वह अपने पिता के अंतिम संस्कार में भी नहीं गए थे. 'राम तेरी गंगा मैली' के बाद राज कपूर ने दोबारा कभी राजीव को लेकर कोई फिल्म नहीं बनाई.

फिल्मों से अचानक गायब हुईं मंदाकिनी 

मंदाकिनी की नीली आंखें और रूप-रंग जो भी एक बार देखता था बस देखता ही रह जाता था. अपने करियर की शुरूआत में उन्होंने तेजी से शोहरत और सफलता की बुलंदियां छूईं. हालांकि, वह जितनी तेजी से फलक तक पहुंची उतनी ही तेजी से नीचे भी आ गईं और फिर अचानक जैसे कहीं गायब हो गईं.

ये भी पढ़ें- अब डॉक्टर बनने जा रही हैं कीर्ति कुल्हारी, इस वेब सीरीज को लेकर हैं बेहद उत्साहित

मंदाकिनी ने 40 से ज्यादा फिल्मों में काम किया

मंदाकिनी ने अपने करियर में 40 से ज्यादा फिल्मों में काम किया, लेकिन उन्हें दोबारा वह सफलता नहीं मिल पाई.

उन्हें पिछली बार 1996 में रिलीज हुई फिल्म 'जोरदार' इसके बाद उन्होंने अचानक ग्लैमर वर्ल्ड से दूरियां बना लीं. या फिर यूं कहें कि उन्हें अच्छे ऑफर्स मिलने बंद हो गए. इसके बाद वह अचानक जैसे कहीं गायब सी हो गईं.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़