Paytm यूजर्स को खुश कर देगी यह खबर, जरूर पढ़ें

भारत में डिजिटालाइजेशन मुहिम के लॉन्च किए जाने के बाद से ही डिजिटल स्टार्ट-अप्स खूब फल-फूल रहे हैं. कई कंपनियां तो ग्लोबल यूनिकॉर्न कंपनियों में अपनी जगह बना चुकी हैं. अब डिजिटल पेमेंट कंपनी पेटीएम (Paytm) भारत में सबसे ज्यादा फंडिंग हासिल करने वाला स्टार्ट-अप बन चुका है.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 25, 2019, 02:35 PM IST
    • चीनी और जापानी निवेशकों ने कंपनी में किया इनवेस्ट
    • मार्केट वैल्यू बढ़कर पहुंचा 160 करोड़ तक
    • भारतीय यूनिकॉर्न कंपनियों में टॉप पर है One97 Communications

ट्रेंडिंग तस्वीरें

Paytm यूजर्स को खुश कर देगी यह खबर, जरूर पढ़ें

नई दिल्ली: डिजिटालाइजेशन की दिशा में कुछ कंपनियां काफी आगे बढ़ चुकी हैं. हाल ही में सुर्खियों में आया था कि ग्लोबल यूनिकॉर्न सूची में विश्व भारत की 24 स्टार्ट-अप कंपनियां अब जगह बना चुकी हैं. अब खबर यह आई है कि Paytm जो भारत के One97 Communications की पोषित कंपनी है, उसने भारत में सबसे ज्यादा फंडिंग हासिल की. जिसका मतलब है कि कंपनी की कमाई लाखों-करोड़ों रुपए बढ़ी है. दरअसल, इस कंपनी में जापान के सॉफ्टबैंक और चीनी कंपनी Alibaba जैसी विशालकाय कंपनियों ने भी काफी निवेश किया है. हालांकि, कंपनी ने पूरी जानकारी नहीं दी है लेकिन इतना तो बताया है कि कंपनी भारत में तेजी से बढ़ रही स्टार्ट-अप्स कंपनियों में शीर्ष पर है. 

चीनी और जापानी निवेशकों ने कंपनी में किया इनवेस्ट

सोमवार को पेटीएम ने जानकारी दी कि कंपनी को सॉफ्टबैंक के विजन फंड और Alibaba के एंटी-फाइंनेंशियल शाखा सहित कई दूसरे इन्वेस्टर्स से काफी सारा निवेश प्राप्त हुआ है. Livemint की रिपोर्ट कहती है कि यह फंडिंग एक बिलियन डॉलर से भी अधिक है. पेटीएम कंपनी में न सिर्फ निवेशकों की ओर से बल्कि उसके शेयरहोल्डर्स ने भी काफी सारा पैसा निवेश किया है. फिर चाहे वह T. Rowe Price Associates हो या पेटीएम की शेयरहोल्डर Inc. Discovery Capital. 

मार्केट वैल्यू बढ़कर पहुंचा 160 करोड़ तक

पेटीएम के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर विजय शेखर शर्मा कहते हैं कि इस फंडिंग के बाद कंपनी की मार्केट वैल्यू बढ़कर 16 बिलियन डॉलर पर पहुंच चुकी है. जाहिर है इतनी कमाई के बाद कंपनी अन्य क्षेत्रों में भी विस्तार करना चाहेगी. कंपनी इंश्योरेंस, लेन-देन और निवेश करने की तैयारी में है. अगले तीन सालों का रोडमैप तैयार किया जा रहा है. जिसमें देशभर में अपने यूजर्स की संख्या में इजाफा कराने के लिए कंपनी 100 बिलियन डॉलर से भी अधिक का निवेश कर सकती है. कंपनी की कोशिशि है कि वित्तीय सेवाओं में वह खुद को एक सशक्त कंपनी के रूप में स्थापित कर सके. पेमेंट बैंक के रूप में बड़ा नाम बनने की कोशिश में लगी कंपनी के सामने कई प्रतिद्वंदी कंपनियां भी हैं. Google Pay और PhonePe Pvt. Ltd. इस क्षेत्र में पेटीएम को कड़ी टक्कर दे रहे हैं. लेकिन जापान और चीन के साथ सहयोग पाने वाली कंपनी को पीछे कर पाने के लिेए अभी यह काफी नहीं. 

यह भी पढ़ें; नौकरी के मोर्चे पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालों का मुंह बंद कर देगी ये खबर

भारतीय यूनिकॉर्न कंपनियों में टॉप पर है One97 Communications 

मालूम हो कि पेटीएम की पैरेंट कंपनी One97 Communications भारत की सबसे ज्यादा कमाई के साथ टॉप लिस्ट में शामिल एक यूनिकॉर्न कंपनी है. जिसका मतलब है कि इस कंपनी की कमाई 1 बिलियन डॉलर यानी 10 करोड़ से ज्यादा हो. इस कंपनी की फिलहाल की कमाई 16 बिलियन डॉलर यानी 160 करोड़ रुपए तक पहुंच चुकी है. यूनिकॉर्न कंपनियों में शामिल स्टार्ट-अप्स से कंपनी की इज्जत के साथ-साथ देश के राजस्व को और इज ऑफ डूंइंग बिजनेस में भी सुधार होता है. देश में लाखों नौकरियों की समस्या से भी निपट लेते हैं और देश में एक बड़ा राजस्व भी आ जाता है. 

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़