आज दिल्ली लाए जाएंगे CDS Bipin Rawat समेत 13 लोगों के पार्थिव शरीर, संसद में राजनाथ देंगे बयान

हेलीकॉप्टर हादसे पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज (गुरुवार) 11:15 बजे लोकसभा और 12 बजे राज्यसभा में हेलीकॉप्टर हादसे पर बयान देंगे.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 9, 2021, 08:52 AM IST
  • सेना के उप प्रमुख ने कम की कतर यात्रा
  • तमिलनाडु में हुआ था हेलीकॉप्टर हादसा

ट्रेंडिंग तस्वीरें

आज दिल्ली लाए जाएंगे CDS Bipin Rawat समेत 13 लोगों के पार्थिव शरीर, संसद में राजनाथ देंगे बयान

नई दिल्लीः तमिलनाडु में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में जान गंवाने वाले सीडीएस बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत सेना के सभी 13 लोगों का पार्थिव शरीर गुरुवार यानी आज दिल्ली लाया जाएगा. वहीं, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह आज (गुरुवार) 11:15 बजे लोकसभा और 12 बजे राज्यसभा में हेलीकॉप्टर हादसे पर बयान देंगे. 

सोनिया गांधी नहीं मनाएंगी जन्मदिन
उधर, हेलीकॉप्टर हादसे के चलते सेना के उप प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल चंडी प्रसाद मोहंती ने अपनी कतर यात्रा को कम कर दिया है और वह दिल्ली लौट रहे हैं. वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गुरुवार को अपना जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया है. उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से उनका जन्मदिन नहीं मनाने की अपील भी की है. 

UN महासचिव ने संवेदना जताई
सीडीएस रावत समेत 14 लोगों की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मौत पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने शोक व्यक्त किया. गुतारेस के प्रवक्ता ने स्टीफेन दुजारिक ने न्यूयार्क में कहा, “भारतीय सशस्त्र सेनाओं के प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों की हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु पर महासचिव ने गहरा शोक व्यक्त किया है.” 

अमेरिकी विदेश व रक्षा मंत्री जताया शोक
अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने भी बिपिन रावत की मृत्यु पर शोक जताया. ब्लिंकन ने कहा, “भारत के प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल रावत, उनकी पत्नी और सहकर्मियों की मृत्यु हो जाने पर मैं गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं.” 

उन्होंने कहा, “हम जनरल रावत को उनकी असाधारण नेतृत्व क्षमता के लिए हमेशा याद रखेंगे, जिन्होंने अपने देश की सेवा की और अमेरिका भारत के संबंधों को प्रगाढ़ करने के लिए काम किया.” 

अमेरिकी रक्षा मंत्री ऑस्टिन ने कहा, “जनरल रावत ने भारत-अमेरिका रक्षा साझेदारी पर एक अमिट छाप छोड़ी है और वह भारतीय सशस्त्र सेनाओं के एकीकृत युद्धक क्षमता वाले संगठन के रूप में उभरने में केंद्रीय भूमिका में थे.” ऑस्टिन ने कहा कि उन्होंने इस साल जनरल रावत से मुलाकात की थी. 

यह भी पढ़िएः CDS Bipin Rawat Death: 1963 में हेलीकॉप्टर हादसे में देश ने खोए थे 6 बड़े सैन्य अफसर, लखनऊ में बाल-बाल बचा था शीर्ष नेतृत्व

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़