LAC Tension: संसद में रक्षामंत्री के बयान से घबराया चीन, हड़बड़ाहट में कही ये बात

संसद में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने गर्जना करते हुए चीन की सेना और उसकी डरपोक सरकार को चेतावनी दी है कि भारत अपनी अखंडता पर अतिक्रमण कभी बर्दाश्त नहीं करेगा.  

LAC Tension: संसद में रक्षामंत्री के बयान से घबराया चीन, हड़बड़ाहट में कही ये बात

नई दिल्ली: वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) और लद्दाख (Laddakh) के कई इलाकों में चीनी सेना और भारतीय सेना आमने सामने है. चीनी सेना भारतीय सीमा में घुसपैठ करने की साजिश कर रही थी जिसे नाकाम कर दिया गया. लोकसभा (Loksabha) में रक्षामंत्री ( Defence Minister) ने साफ शब्दों में सरकार का पक्ष बता दिया है. इससे चीनी सरकार हड़बड़ा गयी है और बौखलाहट में तर्कहीन बयान दे रही है.

चीनी सरकार के मुखपत्र ने राजनाथ के बयान को बताया उकसाने वाला

चीन की सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स (Global Times) का कहना है कि भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का बयान उकसाने वाला है और इससे सीमा पर सर्दियों में तनाव बहुत बढ़ सकता है. इस तरह का बयान देकर भारत के रक्षा मंत्री अपने लोगों को ये भरोसा दिलाना चाहते हैं कि उनकी सेना और सरकार तैयार है. लेकिन सच ये है कि भारत के कारण ही ऐसी परिस्थिति बनी है.

ग्लोबल टाइम्स बढ़ा रहा दोनों देशों में तनाव

आपको बता दें कि चीन की सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स में लंबे समय से तनातनी बढ़ाने वाली बातें लिखी जा रही हैं. लद्दाख में मोदी सरकार लगातार चीन को सबक सिखाने वाली रणनीति पर काम कर रही है. चीनी सरकार के मुखपत्र में लिखा गया है कि भारत को लगता है कि अगर उसके सैनिक लंबे वक्त तक चीनी सीमा पर टिके रहेंगे तो ये युद्ध शांति की ओर बढ़ सकता है.

क्लिक करें- South China Sea में बढ़ा तनाव, इंडोनेशिया ने खदेड़ा चीन का जहाज

बता दें कि ग्लोबल टाइम्स की ओऱ से बार-बार उकसाने की कोशिश की जा रही है और वो माहौल को बदलने में लगा है.

सीमा पर हमारे जवान दे रहे करारा जवाब

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पेंगोंग से लेकर कई जगहों पर चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की कोशिश की. लेकिन हमारे सैनिकों ने चीन की घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया. राजनाथ सिंह ने कहा कि 29-30 अगस्त को चीनी सैनिकों भारत में घुसपैठ की कोशिश की जिन्हें हमारे सैनिकों ने रोक दिया.