• देश में कोरोना से अब तक 169 लोगों की मौत, 478 इलाज के बाद ठीक हुए: स्रोत-PIB
  • भारत में कोरोना के 5218 सक्रिय मामलों सहित मरीजों की संख्या 5865 हुई (9 अप्रैल शाम 5 बजे तक के आंकड़े)
  • कोरोना राहत: 7 करोड़ किसानों के अकाउंट में भेजे गए 14 हजार करोड़ रुपए
  • कोरोना से जंग के लिए रेलवे 2500 डॉक्टर और 35हजार पैरा मेडिकल स्टाफ की तैनाती करेगी
  • 'लाइफलाइन उड़ान' हवाई सेवाओं के जरिए 39 टन से ज्यादा मेडिकल सप्लाई देश के विभिन्न राज्यों में भेजी गई
  • आयकर विभाग 5 लाख से कम के पेन्डिंग आईटी रिफंड तुरंत जारी करेगा
  • रिलीफ कार्यों के लिए स्वयंसेवी संगठन फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया से सीधे अनाज खरीदने की अनुमति प्रदान की गई

दंगाईयों की खैर नहीं, NSA अजित डोवल ने बनाई ये 3 खास योजनाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबसे काबिल अफसर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवल ने दिल्ली के दंगा प्रभावित उत्तर पूर्वी दिल्ली का दौरा किया. अजित डोवल ने आज दिल्ली के दंगा प्रभावित सड़कों, गलियों में घूमे, वहां पीड़ितों से दिल खोलकर बात की और उनकी बात भी सुनी. अजित डोवल ने लोगों से कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने भेजा है. डोवल ने कहा 'इंशाल्लाह यहां पर बिल्कुल अमन होगा'

दंगाईयों की खैर नहीं, NSA अजित डोवल ने बनाई ये 3 खास योजनाएं

नई दिल्ली: नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली हिंसा की आग में जल रहा है. हिंसा पर नफरत की राजनीति भी हो रही है. दिल्ली के दंगों के पीछे हुई साज़िश से जुड़ी एक-एक जानकारी ज़ी हिन्दुस्तान आपतक लगातार पहुंचा रहा है. 'दिल्ली को कंट्रोल' के लिए मोर्चा अब अजित डोवल ने संभाल लिया है. 

'इंशाल्लाह यहां पर बिल्कुल अमन होगा'

दिल्ली में हालात सामान्य करने के लिए डोवल आज दिल्ली की सड़कों पर निकले. डोवल ने कहा है कि दिल्ली में हालात नियंत्रण में हैं. उन्होंने अमित शाह को भी जानकारी दी. वहीं पीएम मोदी ने दिल्ली हिंसा को लेकर शांति की अपील की है. उन्होंने कहा, 'हम पीएम और गृह मंत्री के आदेशानुसार यहां आए हैं. पुलिस यहां अपना काम कर रही है. लोगों में एकता की भावना है, कोई दुश्मनी नहीं है. कुछ अपराधी इस तरह की बातें करते हैं (हिंसा फैलाते हैं), लोग उन्हें अलग करने की कोशिश कर रहे हैं. इंशाल्लाह यहां पर बिल्कुल अमन होगा'

नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर अजित डोवाल दिल्ली में भड़की हिंसा के बाद सुरक्षा का जायजा लेने के लिए आज शाम दिल्ली के जाफ़राबाद और मौजपुर पहुंचे. मौजपुर में अजित डोवल ने कहा कि हालात पूरी तरह से नियंत्रण में है और सुरक्षा एजेंसियां और पुलिस अपना काम मुस्तैदी से कर रही है. दिल्ली में हिंसा प्रभावित दौरे के बाद अजित डोवल गृहमंत्री अमित शाह से मिले. डोवल ने अमित शाह को दिल्ली के ताजा हालात की जानकारी दी.

मोदी का 'बॉन्ड' बना दिल्ली का 'गली ब्वॉय'

दिल्ली हिंसा को कंट्रोल करने के लिए मोदी का 'बॉन्ड' दिल्ली का 'गली ब्वॉय' बन गया है. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवल ने दिल्ली में हिंसा पर नियंत्रण के लिए खुद ही कमान संभाल ली. कल रात से दिल्ली की गलियों का जायजा ले रहे. डोवल आज उन इलाकों में गए, जहां दहशत और डर का माहौल था.

डोवल का मिशन 'दिल्ली कंट्रोल'

डोवल ने इस दौरान स्थानीय लोगों से बात की और शांति बहाली का भरोसा दिया. डोवल ने लोगों से कहा कि दिल्ली में सब सुरक्षित हैं, किसी को कोई तकलीफ नहीं होगी.

इससे पहले अजित डोवल ने कल रात भी दिल्ली पुलिस के बडे अफसरों के साथ दंगा प्रभावित इलाकों जाफराबाद, सीलमपुर, सीमापुर और भजनपुरा का दौरा किया था और चप्पे-चप्पे की जानकारी दिल्ली पुलिस से ली थी. आपको बताते हैं दिल्ली में दंगा रोकने का डोवल प्लान क्या है.

दंगा रोकने का 'डोवल प्लान' नंबर 1 

दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में पुलिस के साथ-साथ अर्धसैनिक बलों की संख्या बढ़ाई गई है.

दंगा रोकने का 'डोवल प्लान' नंबर 2

हिंसा को काबू में करने के लिए दिल्ली पुलिस को खूली छूट दे दी गई है.

दंगा रोकने का 'डोवल प्लान' नंबर 3

NSA अजित डोवल हिंदू और मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरुओं के संपर्क में भी हैं ताकि दोनों समुदाय के लोगों को समझाकर शांति कायम की जा सके.

इसे भी पढ़ें: सावधान! दिल्ली में "दंगा" से जान बचाने के लिए जरूरी जानकारी

अजित डोवल ने पुलिस अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि दिल्ली में अराजकता किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी. दिल्ली में भड़की हिंसा से अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है. हिंसा में 200 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पिछले 60 घंटे से दिल्ली के कई इलाकों में तनाव है. दिल्ली हिंसा के दौरान तीन दिन में 600 राउंड फायरिंग की गई. पुलिस ने हालात पर काबू पाने के लिए दंगा प्रभावित इलाके को 3 जोन में बांटा है.

इसे भी पढ़ें: जान की कीमत पर सियासी दुकान चमका रही हैं विपक्षी पार्टियां

दिल्ली में तीन दिन की हिंसा और हालात बेकाबू होते देख प्रधानमंत्री मोदी के सबसे भरोसेमंद अफसर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवल को दिल्ली में शांति बहाल करने की जिम्मेदारी सौंपी गई. जिम्मेदारी मिलते ही डोवल एक्शन में आ गए. दोपहर में डोवल ने हिंसा प्रभावित मौजपुर का दौरा किया. जिन गलियों में हिंसा हुई थी, उन गलियों का अजित डोवल ने जायजा लिया.

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में दंगाईयों के आतंक से अबतक 24 लोगों की मौत, PM मोदी ने कही ये बड़ी बात

इसे भी पढ़ें: दिल्ली को दहलाने की साजिश Decode, "दंगे के पीछे ISI और PAK का हाथ"