Punjab Assembly Election: भाजपा की खास तैयारियां, गुरुवार को होगी बड़ी बैठक

भाजपा चुनावी रणनीति और तैयारियों को लेकर चंडीगढ़ में बड़ी बैठक करने जा रही है. गुरुवार को इस बैठक में चुनावी तैयारियों और रणनीति को लेकर संवाद किया जाएगा.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 27, 2021, 12:54 PM IST
  • गुरुवार को चंडीगढ़ में बड़ी बैठक होने जा रही है
  • पंजाब चुनाव को लेकर बीजेपी पूरी तरह तैयार है
Punjab Assembly Election: भाजपा की खास तैयारियां, गुरुवार को होगी बड़ी बैठक

नई दिल्ली: पंजाब में पहली बार अपने दम पर चुनाव लड़ने जा रही भाजपा चुनावी रणनीति और तैयारियों को लेकर चंडीगढ़ में बड़ी बैठक करने जा रही है. पार्टी के पंजाब चुनाव प्रभारी एवं केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, चुनाव सह प्रभारी केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी एवं चुनाव सह प्रभारी विनोद चावड़ा गुरुवार को चंडीगढ़ में दिनभर पार्टी के प्रदेश नेताओं और कार्यकतार्ओं से अलग-अलग बैठक कर, चुनावी तैयारियों और रणनीति को लेकर संवाद करेंगे.

बुधवार की शाम को भी होगी बैठक

गुरुवार को दिनभर चलने वाले मैराथन बैठकों के दौर से एक दिन पहले बुधवार शाम को भी चंडीगढ़ में चुनाव प्रभारी, सभी चुनाव सह प्रभारी, पार्टी के प्रदेश प्रभारी और राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत गौतम, सह प्रभारी, पंजाब प्रदेश अध्यक्ष, पंजाब के संगठन महासचिव सहित कई अन्य वरिष्ठ नेताओं की बैठक होगी, जिसमें गुरुवार को होने वाली बैठकों के एजेंडों को अंतिम रूप दिया जाएगा.

गुरुवार को कई अहम मुद्दों पर चर्चा

गुरुवार को केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी और राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत गौतम प्रदेश के कोर ग्रुप के नेताओं के साथ बैठक कर चुनावी एजेंडे, पंजाब के राजनीतिक हालात और चुनाव की तैयारियों को लेकर महत्वपूर्ण चर्चा करेंगे. राज्य में अगले साल होने वाले विधान सभा चुनाव के मद्देनजर पार्टी आलाकमान द्वारा विशेष रूप से नियुक्त किए गए सभी चुनाव प्रभारी और सह-प्रभारी पार्टी के कार्यकतार्ओं और अन्य नेताओं से भी मुलाकात कर उनका फीडबैक लेंगे.

अमरिंदर सिंह के बाद बने राजनीतिक माहौल पर होगी विस्तृत चर्चा

भाजपा सूत्रों के मुताबिक, चंडीगढ़ में होने वाली बड़े नेताओं की बैठक में पंजाब के वर्तमान राजनीतिक हालात, खासतौर से पंजाब कांग्रेस में मचे बवाल और अमरिंदर सिंह के फैसले के बाद बने राजनीतिक माहौल को लेकर विस्तृत चर्चा की जाएगी. अकाली दल के एनडीए से अलग होने के बाद भाजपा पहली बार अपने दम पर पंजाब में विधान सभा चुनाव लड़ने जा रही है. इसलिए पार्टी आलाकमान तैयारियों और रणनीति को लेकर कोई कोर-कसर छोड़ना नहीं चाहती है.

ये भी पढ़ें- Lakhimpur Kheri Case: जिला अस्पताल से फिर जेल भेजे गए आशीष मिश्रा, डेंगू से हुए रिकवर

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़