तो क्या गुजरात में पुलिसवाले को जान से मारने की कोशिश के पीछे कांग्रेस का हाथ?

गुजरात में नागरिकता कानून की आड़ में हिंसा के दौरान पुलिसवालों पर हमला करने वालों की अब खैर नहीं है. पुलिस ने 49 लोगों को गिरफ्तार किया है. जिसमें कांग्रेस के कॉर्पोरेटर शहजाद खान उर्फ सनी बाबा पठान को हिंसा के मामले में पकड़ा गया है.

तो क्या गुजरात में पुलिसवाले को जान से मारने की कोशिश के पीछे कांग्रेस का हाथ?

नई दिल्ली: गुजरात को जलाने के लिए नागरिकता संशोधन कानून का सहारा लेने वालों पर पुलिस ने 49 आरोपियों की धरपकड़ की है. शाह आलम इलाके में हुए हिंसक प्रदर्शन में 21 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे.

अहमदाबाद में पुलिस को बनाया था निशाना

शाहआलम इलाके में कल हुये हिंसक आंदोलन में कई पुलिस वाले घायल हो गए थे. शाहआलम इलाके में हिंसक भीड़ ने पुलिस को घेर लिया और उनपर पत्थर बरसाती नजर आई. जिसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कार्रवाई की है. लेकिन उनमे कुछ लोग ऐसे भी थे, जिन्होंने पुलिस को इन पत्थरबाजों से बचाने की कोशिश की.

कांग्रेस के कॉर्पोरेटर शहजाद खान उर्फ सनी बाबा पठान को हिंसा के मामले में पकड़ा गया है. इस हिंसा में पुलिस को जान से मारने की कोशिश की गई थी. शहजाद खान पठान पहले से ही विवादों में रहा है. साल 2017 में सनी बाबा के खिलाफ दो अपराध दर्ज किए गए. जिसमें दंगा कराने और हत्या की कोशिश का मामला दर्ज है.

CM रुपाणी ने लिया सुध

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने अहमदाबाद और बनासकांठा में प्रोटेस्ट के दौरान हुई हिंसा के सन्दर्भ में गृहविभाग के पास जानकारी मंगवाई है. सीएम ने असामाजिक तत्वों को किसी भी हालत में नहीं छोड़ने का निर्देश दिया है. 

अहमदाबाद शाहआलम इलाके में RFA आज लगातार फ्लैगमार्च कर रही है. RFA की एक प्लाटून द्वारा पुरे संवेदनशील इलाके में फ्लैगमार्च किया जा रहा है लोगो से शांति बनाये रखने की अपील की जा रही है.

इसे भी पढ़ें: अहमदाबाद में दंगाइयों की ना'पाक' करतूत! पुलिसवालों को जान से मारने की कोशिश

अहमदाबाद शाह आलम में हुई हिंसा के मामले में अहमदाबाद क्राइम ब्रांच, एसओजी, सायबर क्राइम ने संयुक्त जांच शुरू कर दी है. घटनास्थल पर के आसपास के सभी सीसीटीवी फुटेज और मीडिया कवरेज के फुटेज खंगाले जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: गुजरात के बनासकांठा में CAA की आड़ में उपद्रवियों ने पुलिस को बनाया निशाना