भीषण सर्दी से जान बचाने के 6 प्रमुख उपाय

पूरे उत्तर भारत में ठंड और कोहरे की वजह से जिंदगी की रफ्तार थम चुकी है. पूरे देश में रिकॉर्डतोड़ ठंड पड़ रही है. ऐसे में कई बीमारियों से लोगों की जान जा रही है. हम आपको ठंड से बचने के लिए 6 प्रमुख सवालों के जवाब बताते हैं.

भीषण सर्दी से जान बचाने के 6 प्रमुख उपाय

नई दिल्ली: सर्द हवाओं और ठिठुरन की वजह से लोगों का ब्लड प्रेशर बढ़ रहा है. BP बढ़ने की वजह से हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ रहा है. इतने अधिक सर्द मौसम में नाक से खून निकलने और हार्ट अटैक की परेशानी के साथ कई मरीज इन दिनों इलाज के लिए अस्पताल पहुंच रहे हैं. इनमें अधिकतर बुजुर्ग और हार्ट की बीमारियों से पीड़ित लोग हैं. लिहाजा अब आपको ठंड से बचने के उपायों पर एक अध्याय पढ़ाते हैं.

1).

प्रश्न - ठंड में क्यों बढ़ता है इनफेक्शन का खतरा?
उत्तर - ठंडी हवा, कम तापमान से रक्त धमनियों के सिकुड़ने से इनफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है, जिसके लिए सावधानी बरतनी काफी आवश्यक है.

2).

प्रश्न - ठंड में बीमारियों से कैसे बचें?
उत्तर - डाइट प्रोटीन, दूध, अंडे का पर्याप्त सेवन करें. सही और बेहतर खान-पान के माध्यम से ठंड की मार से बचने का रास्ता अपनाया जा सकता है.

3).

प्रश्न - सर्दी में ब्लड प्रेशर कैसे कंट्रोल करें?
उत्तर - शरीर के आंतरिक तापमान को स्थिर बनाए रखें. ठंड से बचने के उचित उपाय करें. गर्म कपड़ों और मोटी रजाई/कंबल का इस्तेमाल करें.

4).

प्रश्न - सर्दियों में ब्रेन स्ट्रोक के खतरे से कैसे बचें?
उत्तर - ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करके ही ब्रेन स्ट्रोक से बचा जा सकता है. सबसे पहले ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखें.

5).

प्रश्न - ठंड में हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा क्यों होता है?
उत्तर - शरीर को गर्मी के लिए हार्ट को ज्यादा काम करना पड़ता है, जिससे अटैक का खतरा रहता है. ऐसे में ठंड के मौसम में अपना ख्याल रखें.

6).

प्रश्न - डायबिटीज के मरीज परेशानी से कैसे बचें?
उत्तर - ठंड में पानी पीना कम न करें, वरना शुगर लेवल बढ़ सकता है. डायबिटीज पर कंट्रोल करने के लिए ज्यादा एक्सरसाइज पर ध्यान दें.

इसे भी पढ़ें: नये साल पर 'सफेद' आपातकाल! उत्तर भारत पर 'कोल्ड अटैक'

इन दिनों ठंड की चपेट में आकर कई लोगों की जान जा रही है. जिसके लिए सावधान रहने की जरुरत है. इसी मकसद से ज़ी हिन्दुस्तान ने अपने पाठकों तक इन को पहुंचाने का जिम्मा उठाया है. आपसे अनुरोध है कि इन उपायों को अपने जीवन में उतारें और किसी भी अनहोनी से बचें.