CBSE Board Exam 2021: क्या टल जाएंगे सीबीएसई बोर्ड के एग्जाम

देशभर में कोरोना के बढ़ते हुए खतरे को देखते हुए बच्चों और उनके अभिवावकों ने सीबीएसई से बोर्ड परीक्षाएं टालने की अपील की है. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 12, 2021, 05:13 PM IST
  • अभिवावकों ने परीक्षा टालने की अपील
  • प्रियंका गांधी ने लिखा शिक्षा मंत्री को पत्र
CBSE Board Exam 2021: क्या टल जाएंगे सीबीएसई बोर्ड के एग्जाम

नई दिल्ली: देशभर में कोरोना संक्रमण के मामले बहुत तेजी से बढ़े हैं. कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए खतरे को देखते हुए सीबीएसई की बोर्ड परीक्षा देने की तैयारी कर रहे छात्रों और उनके अभिवावकों ने परीक्षा के आयोजन को लेकर आपत्ति दर्ज की है.

उन्होंने सीबीएसई से अपील की है कि अभी कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए परीक्षाएं कुछ समय के लिए स्थगित कर दी जाए. 

कुछ छात्रों ने यह भी सुझाव दिया है है कि बोर्ड परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन भी किया जा सकता है. 

अभिवावकों ने परीक्षा टालने की अपील

देशभर में कोरोना संक्रमण के बढ़ते हुए खतरे को देखते हुए सीबीएसई के दसवीं और बारहवीं कक्षा के बच्चों एवं उनके अभिवावकों ने सीबीएसई एवं भारत सरकार के शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक'  से बोर्ड परीक्षाएं टालने की अपील की है. 

अभिवावकों का कहना है कि सीबीएसई को बोर्ड परीक्षाएं कुछ समय के लिए स्थगित कर देनी चाहिए, जब तक देश में कोरोना संक्रमण के मामले कम नहीं हो जाते.

यह भी पढ़िए: क्या आधार कार्ड के जरिए निकाले जा सकते हैं आपके खाते से पैसे?

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने की अपील करते हुए ट्वीट किया है कि 'सरकार और सीबीएसई को इस पर विचार करना चाहिए कि क्या वे छात्रों या अन्य की कानूनी जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार हैं, जो बोर्ड परीक्षाओं के कारण महामारी से बुरी तरह से प्रभावित हो सकते हैं.' 

कांग्रेस नेता ने यह भी कहा कि देश में हर दिन एक लाख से अधिक कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं. राहुल गांधी ने लाखों बच्चों और उनके अभिवावकों के परीक्षा केन्द्रों पर एकत्रित होने को लेकर डर एवं आशंका जताई है.

इसके साथ ही कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने भी सीबीएसई के बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन को लेकर सवाल उठाया है. उन्होंने भारत सरकार के शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' को इस समस्या को लेकर पत्र भी लिखा है.

उन्होंने पत्र में लिखा है, 'मैं उम्मीद करती हूं कि सरकार स्कूलों, छात्रों और उनके माता-पिता के साथ वार्ता करेगी, ताकि उनके शैक्षणिक दायित्वों को पूरा करने के प्रति उनके लिए एक सुरक्षित रास्ता निकल सके.' 

यह भी पढ़िए: तमाम अफवाहों के बावजूद, जानिए क्यों सभी को लगवानी चाहिए कोरोना वैक्सीन

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़