Gandhi Jayanti 2022 Essays, Speech: गांधी जयंती पर ले रहे निबंध, भाषण प्रतियोगिता में हिस्सा तो इन 9 बातों का जरूर करें जिक्र

Gandhi Jayanti 2022 Essays, Speech, Facts: महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर को मनाई जाती है. इसे देश-दुनिया में धूमधाम से मनाया जाता है. इस दिन बापू को याद किया जाता है. स्कूल-कॉलेजों, सरकारी कार्यालयों समेत विभिन्न जगहों पर गांधी जयंती के कार्यक्रम होते हैं. निबंध, भाषण, कला, क्विज समेत कई प्रतियोगिताओं का आयोजन होता है. गांधी जयंती पर इस तरह निबंध लिखकर आप प्रतियोगिता में अव्वल बन सकते हैं.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 1, 2022, 07:20 PM IST
  • गांधी जयंती पर कैसे लिखें निबंध
  • निबंध में इन बातों का रखें ध्यान

ट्रेंडिंग तस्वीरें

Gandhi Jayanti 2022 Essays, Speech: गांधी जयंती पर ले रहे निबंध, भाषण प्रतियोगिता में हिस्सा तो इन 9 बातों का जरूर करें जिक्र

नई दिल्लीः Gandhi Jayanti 2022 Essays, Speech, Facts: महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर को मनाई जाती है. इसे देश-दुनिया में धूमधाम से मनाया जाता है. इस दिन बापू को याद किया जाता है. लोग उनके बताए सिद्धांतों पर चलने की कोशिश करने की कसम खाते हैं. स्कूल-कॉलेजों, सरकारी कार्यालयों समेत विभिन्न जगहों पर गांधी जयंती के कार्यक्रम होते हैं. निबंध, भाषण, कला, क्विज समेत कई प्रतियोगिताओं का आयोजन होता है. गांधी जयंती पर इस तरह निबंध लिखकर आप प्रतियोगिता में अव्वल बन सकते हैं.

गांधी जयंती के निबंध में इन बातों को जरूर करें शामिल 
1. 2 अक्टूबर 1869 को महात्मा गांधी का जन्म हुआ था. इस दिन गांधी जयंती मनाई जाती है और उनको श्रद्धांजलि अर्पित की जाती है.
2. महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता भी कहा जाता है. उनको सुभाष चंद्र बोस ने पहली बार राष्ट्रपिता कहकर संबोधित किया था. 4 जून 1944 को सिंगापुर रेडियो से एक संदेश प्रसारित करते हुए राष्ट्रपिता कहा था. 

3. बापू ने सत्य और अहिंसा का मार्ग चुना. इस पर चलते हुए उन्होंने अंग्रेजों से लोहा लिया और देश को आजादी दिलाई.
4. महात्मा गांधी ने देश की आजादी के लिए सविनय अवज्ञा, भारत छोड़ो समेत कई आंदोलन किए. उन्होंने कई बार अनशन किया. जेल गए. लाठियां खाईं. 

5. महात्मा गांधी की समाधि राजघाट में है. इस दिन वहां जाकर लोग श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं. रघुपति राघव राजा राम बापू का प्रिय भजन था. 
6. महात्मा गांधी से मार्टिन लूथर किंग जूनियर, नेल्सन मंडेला जैसे नेता भी प्रभावित हुए और उन्होंने अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ी. महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन भी बापू से प्रभावित थे.

7. महात्मा गांधी की मृत्यु 30 जनवरी 1948 को हुई. नई दिल्ली के बिड़ला भवन में नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी थी.
8. बापू की शवयात्रा में करीब 10 लाख लोग साथ चल रहे थे. 15 लाख से ज्यादा लोग रास्ते में खड़े हुए थे.

9. महात्मा गांधी को 5 बार नोबल पुरस्कार के लिए नामित किया गया था.

यह भी पढ़िएः Gandhi Jayanti 2022: बापू की जिंदगी से जुड़े सभी जरूरी सवालों के जवाब जानिए यहां

 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़