दीवाली के बाद महंगा होगा पेट्रोल-डीजल? प्रोडक्शन में होने जा रही रोजाना 20 लाख बैरल की कटौती

तेल उत्पादन और निर्यातक देशों के संगठन ओपेक और उसके सहयोगी देशों (OPEC+) ने कच्चे तेल (Crude Oil) के प्रोडक्शन में बड़ी कटौती करने का फैसला किया है. ओपेक देशों के इस फैसले से ग्लोबल इकॉनमी को बड़ा झटका भी लग सकता है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 6, 2022, 11:22 AM IST
  • दीवाली के बाद महंगा होगा पेट्रोल-डीजल?
  • प्रोडक्शन में रोज होगी 20 लाख बैरल की कटौती

ट्रेंडिंग तस्वीरें

दीवाली के बाद महंगा होगा पेट्रोल-डीजल? प्रोडक्शन में होने जा रही रोजाना 20 लाख बैरल की कटौती

नई दिल्ली: देश में पिछले काफी लंबे वक्त से पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर बने हुए हैं. लेकिन त्योहारों के बीतने के बाद यानी नवंबर के महीने से इसमें इजाफा देखने को मिल सकता है. जिससे नवंबर के महीने से जनता को महंगाई का एक और डोज मिल सकता है.

इस वजह से महंगा हो सकता है तेल

तेल उत्पादन और निर्यातक देशों के संगठन ओपेक और उसके सहयोगी देशों (OPEC+) ने कच्चे तेल (Crude Oil) के प्रोडक्शन में बड़ी कटौती करने का फैसला किया है. ओपेक देशों के इस फैसले से ग्लोबल इकॉनमी को बड़ा झटका भी लग सकता है. कोविड 19 और लंबे वक्त तक लॉकडाउन जैसी स्थिति को झेलने के बाद पटरी पर लौट रही ग्लोबल इकॉनमी को ओपेक देशों के इस फैसले से तगड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है. 

रोजाना 20 लाख बैरल की कटौती

ओपेक और उसके सहयोगी तेल उत्पादक व निर्यातक देशों ने तेल उत्पादन में रोजाना 20 लाख बैरल की कटौती करने का फैसला किया है. कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद ओपेक प्लस के वियना मुख्यालय में ऊर्जा मंत्रियों की पहली आमने-सामने की बैठक में नवंबर से कच्चे तेल के उत्पादन में रोजाना 20 लाख बैरल की कटौती करने का फैसला किया गया है.

भारत पर पड़ेगा ये असर

बता दें कि भारत दुनिया का सबसे बड़ा तेल आयातक देश है. ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन की वेबसाइट से मिली जानकारी के मुताबिक साल 2020-21 में भारत ने अपनी कुल तेल जरूरतों का लगभग 84 फीसदी हिस्सा आयात से पूरा किया था. भारत अपनी तेल जरूरतों का एक बड़ा हिस्सा सउदी अरब और दूसरे ओपेक देशों से पूरा करता है. कई सारी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ईराक भारत का सबसे बड़ा तेल सप्लायर है. बता दें कि ईराक भी ओपेक देशों के संगठन में शामिल है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ओपेक संगठन के साथ भारत का तेल निर्यात 16 सालों के न्यूनतम स्तर पर है लेकिन फिर भी यह आंकड़ा लगभग 60 फीसदी तेल आयात के आस पास है. 

आज चारों महानगरों में तेल की कीमत

शहर            पेट्रोल   डीजल
मुंबई -         106.31  94.27 
दिल्ली-          96.72  89.62
चेन्नई-          102.63    94.24
कोलकाता-   106.03   92.76

यह भी पढ़ें: आज से लागातर चार दिनों तक बैंक है बंद, अटक सकती है आपके चेक की पेमेंट

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़