• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,76,685 और अबतक कुल केस- 7,93,802: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,95,513 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 21,604 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 62.08% से बेहतर होकर 62.42% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 19,135 मरीज ठीक हुए
  • पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 19,135 मरीज ठीक हो चुके हैं, ठीक हुए लोगों और सक्रिय मामलों के बीच का अंतर 2 लाख से अधिक है
  • भारत में प्रति मिलियन आबादी पर कोविड-19 के सबसे कम 538 मामले हैं जबकि वैश्विक औसत 1497 हैं
  • MoHFW ने कोविड-19 के हल्के मामलों में HCQ का उपयोग करने की सिफारिश की और गंभीर रोगियों को इसके सेवन से बचने की सलाह दी
  • एएसआई के स्मारकों में फ़िल्म शूटिंग करने के लिए 15 दिन के अंदर मिलेगी इजाजत
  • 750 मेगावाट की रीवा सौर परियोजना से हर साल करीब 15 लाख टन CO2 बराबर कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी, PM राष्ट्र को करेंगे समर्पित
  • मंत्रालय एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड योजना को जनवरी 2021 तक शेष सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में लागू करने के लिए प्रयासरत है
  • MHRD: विज्ञान, तकनीक और कानून आदि जैसे विषयों पर प्राथमिक से PG तक की गुणवत्ता वाली सामग्री विभिन्न प्रारूपों में उपलब्ध है

भारत के खिलाफ चीन और पाकिस्तान की संयुक्त साजिश: PoK में दिखे चीन के फाइटर जेट

भारत के खिलाफ चीन और पाकिस्तान की साजिश का खुलासा हुआ है. PoK में स्कार्दू एयरबेस का इस्तेमाल चीन कर रहा है. जून में चीन के चालीस J-10 फाइटर जेट स्कार्दू में देखे गए..

भारत के खिलाफ चीन और पाकिस्तान की संयुक्त साजिश: PoK में दिखे चीन के फाइटर जेट

नई दिल्ली: चालबाज ची अपनी करतूतों से बाज नहीं आ रहा है. गलवान में भारत से जबरदस्त हार का सामना करने के बाद चीन अब पाकिस्तान के साथ मिलकर भारत के खिलाफ साजिश रच रहा है. सबसे पहले आपको

PoK में चीन की हवाई साजिश से जुड़ी 5 बड़ी जानकारी

1). स्कार्दू एयरबेस पर चीन की वायुसेना के लड़ाकू विमान उतरे- सूत्र

2). इस महीने चीन के 40 J-10 फाइटर जेट ने स्कार्दू में उड़ान भरी

3). चीन का मिड एयर रिफ्यूलर IL 78 भी स्कार्दू में देखा गया

4). भारत के खिलाफ स्कार्दू एयरबेस का इस्तेमाल कर सकता है चीन

5). चीन के किसी भी एयरबेस के मुकाबले भारत के नजदीक है स्कार्दू

खबर है कि चीन की वायुसेना पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर यानी पीओके के स्कार्दू एयरबेस का इस्तेमाल कर रही है. इसी महीने यानी जून में चीन के 40 J-10 फाइटर जेट स्कार्दू में देखे गए. इनमें से कुछ फाइटर जेट स्कार्दू एयरबेस पर उतरे.

इसके अलावा चीन के मिड एयर रिफ्यूलर IL-78 भी स्कार्दू पहुंचे. मिड एयर रिफ्यूलर यानी ऐसे विमान जिनमें उड़ान के दौरान ईंधन भरा जा सके. ऐसे में आपको इस खबर का मतलब समझना चाहिए.

खबर ये है कि PoK में एयरबेस का इस्तेमाल कर रहा है चीन
मतलब ये है कि भारत के खिलाफ चीन-पाकिस्तान की संयुक्त साजिश

खबर ये है कि PoK के स्कार्दू एयरबेस में उतरे चीन के फाइटर जेट
मतलब ये है कि LAC पर चीन की साज़िश, LoC पर पाकिस्तान का साथ

इसे भी पढ़ें: राफेल की इन 10 खूबियों से समझिए, आखिर भारत को कैसे मजबूत करेगा ये लड़ाकू विमान?

अब सवाल है कि आखिर चीन की वायुसेना के ये फाइटर जेट पीओके क्यों पहुंचे. चीन की एयरफोर्स के प्लेन ने स्कार्दू में LAND क्यों किया. आशंका जताई जा रही है कि चीन भारत के खिलाफ पीओके के स्कार्दू एयरबेस का इस्तेमाल कर सकता है

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के कराची में आतंकी हमला: अबतक 6 लोगों की मौत, मारे गए सभी 4 आतंकी

इसे भी पढ़ें: कश्मीर में आतंकवादी मरे, अलगाववादी डरे! सैयद शाह गिलानी का 'हुर्रियत' से इस्तीफा