• पूरी दुनिया में कोरोना से 1097810 लोग प्रभावित, अब तक 59140 लोगों की मौत हुई, 228405 लोग रोगमुक्त हुए
  • भारत में कोरोना मरीजों की कुल संख्या 2902, इसमें से 68 लोगों की मौत हुई, 184 इलाज के बाद ठीक हुए
  • महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा 423 मरीज, 19 लोगों की मौत हुई, 42 लोग ठीक हुए
  • तमिलनाडु में कोरोना से 411 लोग प्रभावित, 1 की मौत, 6 लोग ठीक हुए
  • केरल में अब तक 295 लोगों को हुआ कोरोना, 2 की मौत हो चुकी है, 27 इलाज के बाद ठीक हुए
  • दिल्ली में कोरोना के 386 मरीज, 6 की मौत, 8 लोग ठीक हुए, मध्य प्रदेश में कोरोना से 155 लोग संक्रमित, 9 लोगों की मौत
  • यूपी में कोरोना के 188 मरीज, 14 लोग ठीक हुए, 2 लोगों की मौत
  • राजस्थान में कोरोना के 179 मरीज, 3 लोग इलाज के बाद ठीक हुए, अभी तक एक भी मौत नहीं
  • तेलंगाना में कोरोना के 158 मरीज, 7 लोगों की मौत, मात्र 1 ही इलाज के बाद ठीक हुआ
  • कर्नाटक में कोरोना के 128 मरीज और आंध्र प्रदेश में 161 लोगों में कोरोना वायरस का असर

हांगकांग दे रहा है अपने लोगों को दस-दस हज़ार डॉलर

जी हां, हांगकांग की सरकार एक कल्याणकारी सरकार के रूप में जानी जाती है, इसलिये दुनिया में छाई मंदी के हांगकांग पहुंचने पर अगर कैरी लेम की सरकार अब अपने देश के नागरिकों को 10-10 हजार डॉलर देने वाली है, तो इसमें कोई हैरानी की बात नहीं है..      

 हांगकांग दे रहा है अपने लोगों को दस-दस हज़ार डॉलर

 

नई दिल्ली. सारी दुनिया आर्थिक मंदी के दौर से गुज़र रही है. इसमें कार्ड पर आधारित अर्थव्यवस्था के देशों को अधिक चोट पहुंची है जबकि भारत जैसी कृषि प्रधान अर्थव्यवस्था वाले देशों को इसका इतना नुकसान नहीं हुआ है. हांगकांग एक अत्याधुनिक देश है फिर भी मंदी की मार झेल रहा है लेकिन अपने देश के नागरिकों की उसे पूरी फ़िक्र है.

 

मंदी से बचाने की है कोशिश 

हांगकांग सरकार ने अपने देश के नागरिकों को मंदी से बचाने के लिए ये बड़ा कदम उठाया है. वह अपने देश के सभी नागरिकों को 10-10 हजार डॉलर देने जा रही है. सरकार ने घोषणा की है कि वह अपने यहां के हर स्थाई नागरिक को दस हज़ार हांग कांग डॉलर दिए जा रहे हैं जो कि अमरीकन डॉलर की दर पर 1280 अमेरिकी डॉलर होते हैं.

70 लाख स्थानीय निवासी हैं हांगकांग में 

हांगकांग की जनसंख्या दिल्ली की जनसंख्या की आधी है. सत्तर लाख जनसंख्या वाले इस देश की सरकार ने अपने सभी 70 लाख स्थानीय निवासियों को नकद सहायता देने का ऐलान किया है. इस देश की अर्थव्यवस्था मंदी से जूझ रही है और अब हाल ही में चीन से आया कोरोना संक्रमण भी इस देश के संकट को और बढ़ा रहा है. ऐसे में सरकार ने हर स्थायी नागरिक को दस हज़ार डॉलर देने का मन बनाया है. 

 

अब तक का सबसे खराब आर्थिक संकट 

हांगकांग के वित्त मंत्री पॉल चान के अनुसार यह देश के लिए अब तक का सबसे खराब आर्थिक संकट है  जिससे पार पाने के लिए सरकार ने जनता की मदद की ये नई पेशकश की है. सरकार ने अपने वार्षिक बजट में लोगों को नकद सहायता दे कर इस आर्थिक संकट से उबारने का ऐलान किया है और इस काम के लिए उसने करीब 120 अरब हांगकांग डॉलर का प्रावधान किया गया है.

ये भी पढ़ें. संयुक्त राष्ट्र कार्यालय के बाहर जम कर हुआ पाकिस्तान का विरोध