सबसे बड़ी बंदूक और सबसे ताकतवर पुतिन का मुकाबला, जानें कैसे लड़ रहे यूक्रेनी लड़ाके

स्निपेक्स एलीगेटर राइफल की कई खूबियां हैं. यह यह एक इंच का कवच उड़ा सकती है. वहीं 12 टन ऊर्जा के साथ हमला करती है. हेलीकॉफ्टर से लेकर सैनिक सबसे परखच्चे उड़ा देती है.

Written by - Shamsher Singh | Last Updated : Oct 2, 2022, 12:40 PM IST
  • 6.4 किलोमीटर की दूसरी तक है राइफल की रेंज
  • बेहद बड़ी 14.5 मिमी की गोली दागती है ये राइफल

ट्रेंडिंग तस्वीरें

सबसे बड़ी बंदूक और सबसे ताकतवर पुतिन का मुकाबला, जानें कैसे लड़ रहे यूक्रेनी लड़ाके

लंदन: यूक्रेन के निशानेबाज अब तक की सबसे शक्तिशाली राइफलों में से एक स्निपेक्स एलीगेटर (Snipex Alligator) का उपयोग कर रहे हैं. यह राइफल इतना ताकतवर है कि चार मील (6.43 किलोमीटर) से अधिक की दूरी पर 14.5 मिमी की गोली दाग ​​सकती है.  इस हथियार का इस्तेमाल दुश्मन सैनिकों के साथ-साथ उनके उपकरणों को भी निशाना बनाने के लिए किया जा रहा है.

सब कुछ भेद देती है ये बंदूक
गोली लगभग 12 टन ऊर्जा के साथ एक लक्ष्य पर हमला करती है - शरीर के कवच को मिटाने और दुश्मन सैनिक को टुकड़ों में उड़ाने के लिए पर्याप्त शक्तिशाली है.  यूक्रेनी निर्मित हथियार इस हथियार को रूसी सैनिकों और हेलीकॉप्टरों के खिलाफ इस्तेमाल किया जाता है. वाहन के कवच को एक इंच से अधिक मोटी सीमा में भी भेद सकता है. 

निशाने पर क्या है
द सन की रिपोर्ट के मुताबिक बख्तरबंद वाहनों, संचार उपकरणों और गोला-बारूद और ईंधन डंप को भी इससे निशाने पर लिया जा रहा है. राइफल से लैस सैनिकों, जिनमें कुछ महिलाएं भी हैं, इसका जमीन पर खड़े विमानों को निशाना बनाने के लिए भी किया है. 

राइफल 2021 में यूक्रेनी सेना के साथ प्रयोग में आई और ब्रिटिश विशेष बल रंगरूटों को युद्ध में हथियार का उपयोग करना सिखा रहे हैं. राइफल का इस्तेमाल इस साल की शुरुआत में मारियुपोल शहर की रक्षा के दौरान यूक्रेनी आज़ोव ब्रिगेड के सैनिकों द्वारा घातक प्रभाव के साथ किया गया था. 

राइफल में क्या खास है
भारी पुनरावृत्ति को कम करने के लिए, राइफल को थूथन ब्रेक के साथ लगाया गया है, एक उपकरण जो आमतौर पर टैंक और आर्टिलरी फील्ड गन पर पाया जाता है. राइफल में रिकॉइल आइसोलेटर भी लगाया गया है ताकि किक बैक को कम किया जा सके ताकि यह स्नाइपर के कंधे को नुकसान न पहुंचाए. लंबी दूरी की स्नाइपर हत्या का वर्तमान विश्व रिकॉर्ड 3,540 मीटर है, जिसे 2017 में इराक में एक कनाडाई विशेष अभियान स्नाइपर द्वारा बनाया गया था.

ये भी पढ़िए-  ब्राजील के जिंदा नास्त्रेदमस ने की भविष्यवाणी, होने वाला है परमाणु विस्फोट और वर्ल्ड वार-3

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़