2 घंटे लेट चल रही थी ट्रेन, परीक्षा छूटने का सता रहा था डर, फिर ट्वीट से हुआ कमाल

गाजीपुर निवासी नाजिया तबस्‍सुम का डीएलएड बैक पेपर का परीक्षा केंद्र वाराणसी के वल्‍लभ विद्यापीठ बालिका इंटर कालेज में था. बुधवार दोपहर में उसकी परीक्षा थी. नाजिया ने छपरा वाराणसी सिटी एक्सप्रेस में मऊ से  रिजर्वेशन कराया था. मऊ में सुबह 6:25 बजे ट्रेन को पहुंचना था, लेकिन ट्रेन दो घंटे 53 मिनट की देरी से 9:18 बजे पहुंची.

2 घंटे लेट चल रही थी ट्रेन, परीक्षा छूटने का सता रहा था डर, फिर ट्वीट से हुआ कमाल
फाइल फोटो.

वाराणसी: ट्रेनों के लेट चलने की वजह से यात्रियों को अक्सर परेशानियों का सामना करना पड़ता है. ट्रेन लेट होने के कारण कई अभ्यार्थियों की परीक्षाएं तक छूट जाती है. ऐसी ही एक घटना वाराणसी परीक्षा देने जा रही एक छात्रा के साथ भी घटित होने वाली थी, लेकिन उसके भाई के द्वारा किए गए एक ट्वीट से ट्रेन की गति बढ़ गई और वह समय रहते गंतव्य स्टेशन पर पहुंच गई. 

यासीन मलिक की पत्नी मुशाल मलिक ने कश्मीर को लेकर इमरान खान से की यह अपील

 

दो घंट की देरी से चल रही थी ट्रेन 
गाजीपुर निवासी नाजिया तबस्‍सुम का डीएलएड बैक पेपर का परीक्षा केंद्र वाराणसी के वल्‍लभ विद्यापीठ बालिका इंटर कालेज में था. बुधवार दोपहर में उसकी परीक्षा थी. नाजिया ने छपरा वाराणसी सिटी एक्सप्रेस में मऊ से  रिजर्वेशन कराया था. मऊ में सुबह 6:25 बजे ट्रेन को पहुंचना था, लेकिन ट्रेन दो घंटे 53 मिनट की देरी से 9:18 बजे पहुंची.

यह भी पढ़ें: Valentines Day: कहीं आशिकी के चक्कर में खाली न हो जाए बैंक अकाउंट, पहले ही हो जाएं Alert

 

 भाई के ट्वीट से हुआ कमाल
ऐसे में नाजिया के भाई अनवर जमाल ने रेलवे को ट्वीट कर ट्रेन के लेट होने से परीक्षा छूटने की जानकारी दी. बताया कि उनकी बहन का 12 बजे से एग्जाम है. ट्रेन की देरी के कारण परीक्षा छूट जाएगी. ट्वीट मिलते ही रेलवे ने उनका मोबाइल नंबर मांगा और जल्‍द व्‍यवस्‍था की बात कही. 

ट्वीट कर जताया अभार
रेलवे की तरफ से उनसे मोबाइल पर संपर्क कर परीक्षा के बारे में जानकारी हासिल की गई. उनको समय से पहुंचाने का भरोसा दिलाया.इसका असर यह हुआ कि जो ट्रेन मऊ तक लगभग तीन घंटे लेट थी, वह केवल दो घंटे की देरी से 11 बजे वाराणसी सिटी पहुंच गई. परीक्षा केंद्र पहुंचने पर अनवर ने रेलवे को दोबारा ट्वीट कर आभार जताया. 

LIVE TV