close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

फ्रेंचाइजी के 'फर्जी' विज्ञापन से वसूली का खेल, अमूल ने गूगल को भेजा कानूनी नोटिस

कृपया ध्यान दें, गूगल पर अमूल की फर्जी वेवसाइट चलाकर की जा रही थी ठगी.  

फ्रेंचाइजी के 'फर्जी' विज्ञापन से वसूली का खेल, अमूल ने गूगल को भेजा कानूनी नोटिस
फाइल फोटो.

नई दिल्लीः अगर आप अमूल की डिस्ट्रीब्यूटरशिप लेना चाहते हैं, तो कृपया ध्यान दें. गूगल पर अमूल फ्रेंचाइजी, अमूल पार्लर, अमूल डिस्ट्रीब्यूटर की-वर्ड डालने पर फर्जी लिंक आ रहे हैं. ये लिंक पूरी तरह गलत हैं और इस चक्कर में रजिस्ट्रेशन फीस के नाम पर लोगों के 3-6 लाख रुपए तक वसूले जा रहे हैं. इसलिए अगर आपको फ्रेंचाइजी लेनी है तो कंपनी की असल वेबसाइट पर जाकर पूरी तरह तस्दीक कर लें. अमूल ने फर्जी विज्ञापन मामले में गूगल इंडिया को कानूनी नोटिस भी भेजा है. अमूल ने पुलिस से शिकायत की है कि कुछ संस्थाएं और व्यक्ति अमूल की डिस्ट्रीब्यूटरशिप दिलाने के नाम पर गूगल पर फर्जी विज्ञापन देकर ठगी कर रहे हैं.

लोगों से ठगे गए लाखों रुपए
अमूल का कहना है कि गूगल पर अमूल फ्रेंचाइजी, अमूल पार्लर और अमूल डिस्ट्रीब्यूटर की-वर्ड डालने पर फर्जी लिंक आ जाते हैं. इन पर क्लिक करने पर लोगों से फॉर्म भरवाया जाता है. उसके बाद कॉल कर रजिस्ट्रेशन फीस के तौर पर 25,000 से 5 लाख रुपए तक मांगे जाते हैं. पैसे मिलने के बाद लोगों से संपर्क बंद कर दिया जाता है. अमूल के एमडी आरएस सोढ़ी का कहना है कि फर्जी विज्ञापनों के शिकार कई लोगों ने उनसे संपर्क किया है. कुछ लोग ऐसे हैं जो ठगों के झांसे में आकर 3 से 6 लाख रुपए तक का भुगतान कर चुके हैं.

फर्जी विज्ञापन रोके गूगल
अमूल ने गूगल से फर्जी विज्ञापनों पर रोक लगाने की मांग की है. अमूल का कहना है कि बड़ी कंपनियों से संबंधित पेड ऐड लेने से पहले विज्ञापन देने वालों की जांच-पड़ताल की जानी चाहिए.