Foreign Portfolio Investors ने मई में अब तक निकाले 3207 करोड़ रुपये

FPI  ने फरवरी, मार्च और अप्रैल में शुद्ध रूप से 11,182 करोड़ रुपये, 45,981 करोड़ रुपये तथा 16,093 करोड़ रुपये के निवेश किये थे.

Foreign Portfolio Investors ने मई में अब तक निकाले 3207 करोड़ रुपये
निवेशकों ने दो से दस मई के दौरान शेयरों में 1,344.72 करोड़ रुपये निवेश किये. (फाइल)

नई दिल्ली: तीन महीने से जारी शुद्ध लिवाल पर विराम लगाते हुए विदेशी निवेशकों ने भारतीय पूंजी बाजारों से मई में पिछले सात कारोबारी सत्रों में शुद्ध रूप से 3,207 करोड़ रुपये की निकासी की. अमेरिका तथा चीन के बीच व्यापार तनाव तथा चुनाव परिणाम को लेकर अनिश्चितता के बीच विदेशी निवेशकों ने यह निकासी की. इससे पहले, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने फरवरी, मार्च और अप्रैल में शुद्ध रूप से 11,182 करोड़ रुपये, 45,981 करोड़ रुपये तथा 16,093 करोड़ रुपये के निवेश किये थे.

ताजा डिपोजिटरी आंकड़े के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने दो से दस मई के दौरान शेयरों में 1,344.72 करोड़ रुपये निवेश किये जबकि दूसरी तरफ बांड बाजार से शुद्ध रूप से 4,552.20 करोड़ रुपये की निकासी की. इस प्रकार शुद्ध रूप से 3,207.48 करोड़ रुपये की पूंजी निकाली गयी. महाराष्ट्र दिवस के मौके पर बाजार एक मई को बंद था. बजाज कैपिटल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष तथा प्रमुख (निवेश विश्लेषक) आलोक अग्रवाल ने कहा, ‘‘देश के लिये दीर्घकालीन वृद्धि की संभावना बनी हुई है लेकिन मई में अल्पकालीन चुनौतियां देखने को मिली.’’ 

पिछले सप्ताह 1500 अंक टूटा Sensex, 9 कंपनियों के 1.6 लाख करोड़ रुपये डूबे

ग्रो डाट इन के मुख्य परिचालन अधिकारी हर्ष जैन ने कहा कि विभिन्न विकसित देशों के केंद्रीय बैंकों के मौद्रिक नीति रुख में बदलाव के बाद विदेशी निवेशक पिछले तीन महीने से भारतीय बाजार में शुद्ध रूप से लिवाल रहे. हालांकि हाल में अमेरिका-चीन के बीच व्यापार तनाव बढ़ने तथा चुनाव के नतीजे को लेकर अनिश्चिता तथा अन्य कारणों से निवेशकों ने इस महीने बाजार से पैसे निकाले.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.