मारुति अपने डीजल कार बंद के फैसले पर यू-टर्न की ओर, जाने क्या है वजह

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी अपने डीजल कारों को बंद करने के फैसले से यू-टर्न ले सकती है। संभावना जताई जा रही है कि मारुति सुजुकी भविष्य में भी अपनी डीजल कारें बनाती रहेगी।

मारुति अपने डीजल कार बंद के फैसले पर यू-टर्न की ओर, जाने क्या है वजह
फाइल फोटो

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी अपने डीजल कारों को बंद करने के फैसले से यू-टर्न ले सकती है। संभावना जताई जा रही है कि मारुति सुजुकी भविष्य में भी अपनी डीजल कारें बनाती रहेगी।

एक बिजनेस पत्रिका के मुताबिक इस साल की शुरुआत में मारुति सुजुकी ने अपने डीजल कारों को जल्द बंद करने का ऐलान किया था। कंपनी को उम्मीद थी की इस ऐलान के बाद अन्य डीजल कार बनाने वाली कंपनियां भी उसका अनुसरण करेंगी। लेकिन ज्यादातर सभी डीजल कार बनाने वाली कंपनियों ने इस सेगमैंट की कारों पर कोई फैसला नहीं लिया। लिहाजा ज्यादातर कंपनियों ने संकेत दिया कि वे डीजल कार बनाती रहेंगी। जानकारों का कहना है कि मारूति ने अन्य कंपनियों की ओर से सुस्त रवैया देखते हुए ही अपनी डीजल इंजन वाले कार जारी रखने का मन बना लिया है।

1.5 लीटर डीजल इंजन का काम शुरु
हाल ही में BS-VI के तहत मारुति ने 1.5 लीटर वाले डीजल इंजन पर काम शुरु कर दिया है। फिलहाल डीजल कार की प्रतिस्पर्धा में ह्यूंडे, महिंद्रा और टाटा जैसी कंपनियां बाजार में हैं। कंपनी ने पिछली बार डीजल कारों पर अपना ब्रेक लगाने का मन बताते हुए ऐलान किया था कि उनकी कार, सियाज, एर्टिगा, एस-क्रॉस और विटारा ब्रेजा में डीजल वेरियएंट्स को खत्म कर दिया जाएगा।

कंपनी ने यह भी कहा था कि पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए मारुति 1 अप्रैल, 2021 तक डीजल इंजन का निर्माण बंद कर देगा।