close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नहीं बदल रहा है बर्धमान रेलवे स्टेशन का नाम, रेल मंत्रालय के पास कोई प्रस्ताव नहीं

अगर किसी स्टेशन का नाम बदलना है तो राज्य सरकार इसके लिए केंद्र और गृह मंत्रालय को प्रस्ताव भेजती है. उसके बाद आगे की प्रक्रिया होती है.

नहीं बदल रहा है बर्धमान रेलवे स्टेशन का नाम, रेल मंत्रालय के पास कोई प्रस्ताव नहीं
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के बर्धमान रेलवे स्टेशन का नाम बदलने को लेकर रेलवे के पास फिलहाल कोई प्रस्ताव नहीं आया है. बर्धमान रेलवे स्टेशन ईस्टर्न रेलवे जोन में आता है. वर्तमान नियम के मुताबिक गृह मंत्रालय और भारत सरकार के पास किसी रेलवे स्टेशन का नाम बदलने का अधिकार है. अगर किसी स्टेशन का नाम बदलना है तो राज्य सरकार इसके लिए केंद्र और गृह मंत्रालय को प्रस्ताव भेजती है. 

नित्यानंद राय ने किया ऐलान, बंगाल के बर्द्धमान रेलवे स्टेशन का नाम होगा बटुकेश्वर दत्त

उससे पहले रेल मंत्रालय, साइंस एंड टेक्नोलॉजी मिनिस्ट्री, सर्वेयर जनरल ऑफ इंडिया और डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट से NOC की जरूरत होती है. अभी तक इस बाबत किसी भी मंत्रालय से NOC नहीं मिला है.

कर्मचारियों की छंटनी पर रेलवे ने दिया यह जवाब, कहा- 'यह रूटीन रिव्यू'

बता दें, केंद्र सरकार ने बंगाल के बर्धमान रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर महान क्रांतिकारी बटुकेश्वर दत्त किए जाने का फैसला किया. इस फैसले के बाद सियासत गर्म हो गई और प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार के फैसले को संविधान के खिलाफ बताया. उनका कहना है कि केंद्र ने नाम बदलने से पहले राज्य सरकार से मशविरा भी नहीं लिया था.