PPF, Sukanya Samriddhi, NSC के निवेशकों को लग सकता है झटका! 1 जुलाई से ब्याज दरों में हो सकती है कटौती

छोटी बचत योजनाओं जैसे सुकन्या समृद्धि, नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट्स (NSC) और PPF पर ब्याज दरें घट सकती हैं.

PPF, Sukanya Samriddhi, NSC के निवेशकों को लग सकता है झटका! 1 जुलाई से ब्याज दरों में हो सकती है कटौती

Small Savings Schemes: छोटी बचत योजनाओं जैसे सुकन्या समृद्धि, नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट्स (NSC) और PPF पर ब्याज दरें घट सकती हैं. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कटौती पर फैसला ले सकती है, ऐसा हुआ तो 1 जुलाई से छोटी बचत योजनाओं पर कम ब्याज मिलेगा. 

छोटी बचत योजनाओं के ब्याज में कटौती की तैयारी!

एक्सपर्ट्स का मानना है कि ग्रोथ की लय को वापस पाने के लिए वित्तीय और मौद्रिक दोनों तरह के सपोर्ट की जरूरत है. छोटी बचत योजनाओं के ब्याज में कटौती से सरकार की उधारी की लागत कम हो जाएगी, जिससे इकोनॉमी को सहारा मिलेगा. रिजर्व बैंक और बैंक्स दोनों ही ब्याज दरों में कटौती के पक्ष में हैं. 

ये भी पढ़ें- आज आ सकता है एक और राहत पैकेज! वित्त मंत्री करेंगी दोपहर 3 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस, छोटे उद्योगों के लिए होंगे बड़े ऐलान?

30 जून को होगी ब्याज दरों पर समीक्षा?

आपको बता दें कि 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव से पहले 31 मार्च को छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कटौती कर दी गई थी, लेकिन उसके अगले ही दिन वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस फैसले को एक भूल बताते हुए वापस ले लिया था. अब ये समझना कोई रॉकेट साइंस नहीं है कि सरकार ने विधानसभा चुनावों को देखते हुए ही ये फैसला वापस ले लिया था, लेकिन अब सरकार की ऐसी कोई मजबूरी नहीं है. सरकार हर तिमाही छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरें तय करती है. 30 जून अगली समीक्षा की तारीख है. मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि जुलाई से अधिसूचना को फिर से जारी किया जा सकता है. अगर दरों में कटौती हुई तो छोटे निवेशकों को काफी नुकसान होगा. 

चुनाव खत्म, दरों में कटौती शुरू!

इस वक्त ज्यादातर छोटी बचत योजनाओं पर 6.9 परसेंट के ऊपर ब्याज मिल रहा है. अगस्त 2019 से लेकर अबतक रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 1.75 परसेंट की कटौती की है. जबकि तब से छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरें 0.8-1 परसेंट तक की कटौती की गई है. अनुमान लगाया जा रहा है कि सरकार बचत योजनाओं में कटौती की गुंजाइश खोज रही है. The Economic Times में छपी रिपोर्ट में CARE Ratings के चीफ इकोनॉमिस्ट मदन सबनवीस का कहना है कि छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में कटौती हो सकती है, क्योंकि विधानसभा चुनाव अब खत्म हो चुके हैं. 

किस पर कितना ब्याज 

सुकन्या समृद्धि स्कीम पर अभी 7.6% ब्याज मिल रहा है. जबकि सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम पर 7.4%, पब्लिक प्रॉविडेंट फंड पर 7.1%, किसान विकास पत्र पर 6.9%, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट पर 6.8% और मासिक इनकम अकाउंट पर 6.6% ब्याज मिल रहा है. छोटी स्कीम पर ब्याज दरों की हर तिमाही में समीक्षा होती है. इस चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही की समीक्षा जून में होगी.

छोटी बचत योजनाओं की मौजूदा ब्याज दरें 
स्कीम                                                  ब्याज दर
सुकन्या समृद्धि स्कीम (SSS)                    7.6% 
सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम                   7.4%
पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF)                    7.1%
किसान विकास पत्र (KVP)                       6.9%
नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC)             6.8% 
मासिक इनकम अकाउंट                         6.6%

ये भी पढ़ें- Mutual Funds: 167 रुपये रोजाना बचाया, तो रिटायरमेंट पर मिलेंगे 11.33 करोड़ रुपये, क्या आप जानते हैं ये तरीका?

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.