ये कंपनियां चलाएंगी देश में Private Trains, रेलवे ने फाइनल किए नाम!

देश में प्राइवेट ट्रेनें (Private Trains) कौन चलाएगा, उन कंपनियों के नाम तय होना शुरू हो चुके हैं. भारतीय रेलवे (Indian railway) मार्च ने 2023 से पटरियों पर प्राइवेट ट्रेन चलाने का लक्ष्य रखा है. इसके लिए 12 ट्रेनों के साथ शुरुआत की जाएगी, इसके बाद 2027 तक रेलवे ऐसी 151 ट्रेनें चलाएगा.

ये कंपनियां चलाएंगी देश में Private Trains, रेलवे ने फाइनल किए नाम!

नई दिल्ली: देश में प्राइवेट ट्रेनें (Private Trains) कौन चलाएगा, उन कंपनियों के नाम तय होना शुरू हो चुके हैं. भारतीय रेलवे (Indian railway) मार्च ने 2023 से पटरियों पर प्राइवेट ट्रेन चलाने का लक्ष्य रखा है. इसके लिए 12 ट्रेनों के साथ शुरुआत की जाएगी, इसके बाद 2027 तक रेलवे ऐसी 151 ट्रेनें चलाएगा. इसके लिए रेलवे ने निजी कंपनियों से एप्लीकेशंस (Applications) मंगवाईं थीं. 

2 चरणों में प्राइवेट ट्रेनों के लिए बोलियां

आपको बता दें कि निजी ट्रेनें चलाने के लिए कंपनियों का चयन दो चरणों की बिडिंग प्रक्रिया के तहत पारदर्शी तरीके से किया जा रहा है. पहला चरण है Request For Qualification (RFQ) और दूसरा है Request For Proposal (RFP). रेलवे को यात्री ट्रेनें चलाने के लिए 16 प्राइवेट कंपनियों की ओर से 120 एप्लीकेशंस मिली थीं, जिसमें से 102 एप्लीकेशंस अगले स्टेज यानी Request For Proposal (RFP) के योग्य पाईं गई हैं. जिनमें से कुछ बड़े नाम हैं 

प्राइवेट ट्रेनों के लिए कंपनियों का शानदार रिस्पॉन्स

12 क्लस्टर्स के लिए RFQ की लिस्ट 1 जुलाई 2020 को जारी की जा चुकी है. प्राइवेट ट्रेन चलाने के इस प्रोजेक्ट में 30,000 करोड़ रुपये तक का निजी निवेश आने की उम्मीद है. RFP के लिए 7 अक्टूबर 2020 को एप्लीकेशन मंगाईं गईं थीं. रेलवे को निजी कंपनियों की ओर से इस प्रोजेक्ट के लिए शानदार रिस्पॉन्स मिला है. 

ये कंपनियां चलाएंगी निजी ट्रेनें!

1. IRCTC
2. GMR Highways Ltd.
3. Gateway Rail Freight Ltd.
4. IRB Infrastructures Developers
5. Welspun Enterprise Ltd.

इसके अलावा जिन कंपनियों ने इस क्लस्टर के लिए एप्लीकेशंस दी हैं उनमें Arvind Aviation, BHEL, Construcciones y Auxiliar de Ferrocarrriles, S.A, Malempati Power Private Ltd और Cube Highways and Infrastructure III Pvt Ltd शामिल है. 

ये भी पढ़ें: ये हैं देश की टॉप 5 सबसे सुरक्षित कारें, क्रैश टेस्ट मिली है 5 स्टार रेटिंग

 

दिल्ली, मुंबई क्लस्टर हिट रहा 

व्यस्त रूट और यात्री संख्या को देखते हुए दिल्ली और मुंबई क्लस्टर के लिए सबसे ज्यादा एप्लीकेशंस मिली हैं. 19 कंपनियों की एप्लीकेशंस में से हर किसी को मुंबई और दिल्ली क्लस्टर के लिए योग्य पाया गया है. चंडीगढ़ और चेन्नई क्लस्टर्स के लिए 5 योग्य एप्लीकेशंस हैं. जयपुर और सिकंदराबाद क्लस्टर्स के लिए दोनों को 9 एप्लीकेशंस, हावड़ा, बैंगलुरू और पटना क्लस्टर के लिए 8-8 एप्लीकेशंस योग्य पाईं  गई हैं. 

जिन 12 क्लस्टर की बात यहां हो रही है वो इस तरह से हैं, ध्यान देने वाली बात ये है कि दिल्ली और मुंबई यात्री संख्या और रेवेन्यू के हिसाब से ज्यादा डिमांड में हैं, इसलिए इन्हें दो हिस्सों में बांटा गया है. 

ये हैं प्राइवेट ट्रेनों के 12 क्लस्टर्स

Cluster 1                मुंबई 1
Cluster 2                मुंबई 2
Cluster 3                दिल्ली 1
Cluster 4                दिल्ली 2
Cluster 5                चंडीगढ़ 
Cluster 6                हावड़ा
Cluster 7                पटना
Cluster 8                प्रयागराज 
Cluster 9                सिकंदराबाद 
Cluster 10              जयपुर
Cluster 11              चेन्नई 
Cluster 12              बैंगलुरू 

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.