close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'लोग चाहते हैं इंग्लैंड वर्ल्ड कप में नाकाम हो', बेयरस्टो के इस बयान को कप्तान का भी समर्थन

बेयरस्टो ने हाल ही में कहा था कि कई लोग विश्व कप में इंग्लैंड के विफल होने का इंतजार कर रहे थे.

'लोग चाहते हैं इंग्लैंड वर्ल्ड कप में नाकाम हो', बेयरस्टो के इस बयान को कप्तान का भी समर्थन
(फोटो: ANI)

बर्मिघम: इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने अपनी टीम के सदस्य जॉनी बेयरस्टो का समर्थन करते हुए कहा है कि उन्हें भी अपनी बात कहने का अधिकार है. बेयरस्टो ने हाल ही में कहा था कि कई लोग विश्व कप में इंग्लैंड के विफल होने का इंतजार कर रहे थे.

इंग्लैंड को इस मैच में श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया से लगातार दो हार मिली हैं जिससे उसके सेमीफाइनल में जाने पर काले बादल मंडरा रहे हैं. अंतिम-4 में जान के लिए उसे रविवार को एजबेस्टन में भारत के खिलाफ होने वाले मैच और फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले मैच में जीत हासिल करनी होगी.

भारत के खिलाफ होने वाले मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में मोर्गन ने कहा, "वह (बेयरस्टो) को अपनी बात कहने का अधिकार है जिस तरह आलोचकों को है. यह वो मानते हैं."

मोर्गन ने कहा, "मुझे लगता है कि आलोचक आलोचना करने के लिए हैं. हमने अच्छा नहीं किया इसलिए उन्होंने हमारी आलोचना की. वह अपने विचार रखने के लिए स्वतंत्र हैं."

इंग्लिश कप्तान ने कहा, "मुझे लगता है कि जो समर्थन हमें हमारे प्रशंसकों और देश के बाकी के कोने से मिला है वह शानदार है."

भारत के साथ होने वाले मुकाबले पर मोर्गन ने कहा कि यह उनके करियर का सबसे अहम मैच नहीं है. उन्होंने कहा, "नहीं, मैं ऐसा नहीं सोचता. अभी तक जो मेरे लिए सबसे अहम मैच रहा है वो है चैम्पियंस ट्रॉफी-2017 का सेमीफाइनल. वो काफी अहम था. अगर हमने वहां से नहीं सीखा होता और आगे नहीं बढ़े होते तो यह काफी चुनौतीपूर्ण होता. मैं शायद अभी तक कप्तान भी नहीं रहता."

(इनपुट-आईएएनएस)