close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup : PAK कप्तान सरफराज ने कहा, 'भारत नहीं, इस टीम से हारना हमें पूरे टूर्नामेंट में महंगा पड़ा'

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने जीत के बाद कहा, "हमने पिछले चार मैचों में अच्छी क्रिकेट खेली है लेकिन दुर्भाग्यवश हम क्वालिफाई नहीं कर सके.

World Cup : PAK कप्तान सरफराज ने कहा, 'भारत नहीं, इस टीम से हारना हमें पूरे टूर्नामेंट में महंगा पड़ा'
आईसीसी विश्व कप-2019 में पाकिस्तान का सफर समाप्त हो गया.

लंदन: आईसीसी विश्व कप-2019 में पाकिस्तान का सफर समाप्त हो गया. टीम सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाई. हालांकि, उसने शुक्रवार को लॉर्ड्स मैदान पर खेले गए अपने अंतिम मैच में बांग्लादेश को 94 रनों से हरा जीत के साथ विदाई ली. पाकिस्तान ने इमाम उल हक के 100 तथा बाबर आजम के 96 रनों के दम पर 50 ओवरों में नौ विकेट खोकर 315 रन बनाए. बाद में बांग्लादेश को 44.1ओवरों में 221 रनों पर ढेर कर दिया. 

वैसे पाकिस्तान के सेमीफाइनल में जाने की उम्मीदें न के बराबर थीं. इसके लिए पाकिस्तान को पहले बल्लेबाजी करना जरूरी था. बांग्लादेश को 316 रनों का लक्ष्य देने के बाद पाकिस्तान को सेमीफाइनल में जगह बनाने के लिए चाहिए था कि वह बांग्लादेश को सात रनों से पहले ऑल आउट कर दे, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया और पाकिस्तान विश्वकप से बाहर हो गया. 
 
पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने जीत के बाद कहा, "हमने पिछले चार मैचों में अच्छी क्रिकेट खेली है लेकिन दुर्भाग्यवश हम क्वालिफाई नहीं कर सके. वेस्टइंडीज के खिलाफ हारना हमें इस पूरे टूर्नामेंट में महंगा पड़ा लेकिन भारत के साथ हुए मैच के बाद टीम ने खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया." 

सरफराज ने आगे कहा, "हमें मिलकर एकसाथ बैठने और बहुत सा काम करने की जरूरत है. हमारे बल्लेबाजों - इमाम, बाबर, हैरिस और गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया है. शाहीन ने छह विकेट लिए हैं, यह उसका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. मैं अपने समर्थकों का भी शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने पूरे टूर्नामेंट के दौरान हमारा उत्साह बढ़ाया." 

उधर, बांग्लादेश के कप्तान मशरेफ मुर्तजा ने मैच के बाद प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "मुझे लगता है कि शाकिब ने अंतिम दो मैचों में शानदार बैटिंग की है लेकिन हम उनका साथ नहीं दे सके. विकेट हमारे लिए भी अनुकूल था, लेकिन हम लक्ष्य का पीछा नहीं कर सके. मैं शाकिब से इसके लिए माफी मांगना चाहता हूं, क्योंकि अगर हम थोड़ा और आगे आकर मेहनत करते तो परिणाम कुछ और हो सकते थे. उन्होंने बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग सभी अच्छे से की. वह लाजवाब रहे."