close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चयनकर्ताओं की भारी भूल: विश्व कप टीम में हेल्स को चुना, जो डोप टेस्ट में हुए हैं फेल

इंग्लैंड के एलेक्स हेल्स डोप टेस्ट में हुए फेल होने पर 21 दिन के बैन झेल रहे थे. इसी बीच चयनकर्ताओं ने उन्हें विश्व कप टीम में शामिल कर लिया.

चयनकर्ताओं की भारी भूल: विश्व कप टीम में हेल्स को चुना, जो डोप टेस्ट में हुए हैं फेल
(फोटो: Reuters)

लंदन: आईसीसी वर्ल्ड कप शुरु होने में अब 33 दिन का समय रह गया है. दुनिया के हर देश की टीम की घोषणा हो चुकी है. ऐसे में इंग्लैंड के लिेए बुरी खबर आई है. टीम के प्रमुख बल्लेबाज एलेक्स हेल डोप टेस्ट पास करने में नाकाम हो गए हैं. एक अंग्रेजी अखबार में छपी रिपोर्ट के अनुसार हेल्स इन दिनों 21 दिन का प्रतिबंध झेल रहे हैं क्योंकि वे दूसरी बार डोप टेस्ट में फेल हो गए थे. इसके बावजूद उन्हें टीम मेंचुने जाने से बवाल हो गया है. 

चयन समिति को पता नहीं थे नतीजे
पिछले सप्ताह ही ईसीबी ने अपने देश में होने जा रहे आईसीसी वनडे वर्ल्ड कर के लिए 15 सदस्सीय टीम का ऐलान किया था जिसमें एलेक्स हेल्स का नाम भी शामिल था. बताया जा रहा है कि जब टीम की घोषणा हुई थी तब चयनकर्ताओं को इस टेस्ट के नतीजों के बारे में पता नहीं था. न ही इस बात का कि हेल्स को इन टेस्ट में पॉजिटिव पाया गया है. 

यह भी पढ़े: VIDEO: रोहित शर्मा ने छक्के मार कर की ऐसी वापसी, बन गए चेन्नई के खिलाफ जीत के हीरो

इस क्लब के लिए खेलना था हेल्स को
खबरों के मुताबिक हेल्स को वर्ल्ड कप टीम की में जगह मिलने के बाद नॉटिंघमशायर के लिए मैच खेलना था, लेकिन हेल्स ने निजी कारणों का हवाला देते हुए अपना नाम वापस ले लिय़ा था. हेल्स को रॉयल क्लब लंदन के लिए प्रचार करते हुए खेलना था. उनके निजी कारणों का हवाला देते हुए हटने के कारण मामले ने तूल पकड़ लिया है. वहीं ईसीबी को टेस्ट के नतीजों की जानकारी न होने ने भी आग में घी का काम किया है.

ईसीबी ने कमेंट करने से किया मना
वहीं इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने इस मामले में आधिकारिक बयान देने से मना कर दिया है. बोर्ड के प्रवक्ता ने कहा कि गोपनीयता के फर्ज से बंधे होने के कारण बोर्ड इस मामले में कोई टीप्पणी नहीं कर सकता. वहीं नॉटिंघमशायर, प्रोशेफनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन और हेल्स की ओर से भी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. 

यह भी पढ़ें: IPL Memes: धोनी बोले रैना से, बेटा तुमसे ना हो पाएगा, ‘मुंबई बनी चेन्नई का बाप’

 

यह टेस्ट देना जरूरी है हर क्रिकेटर  के लिए
इंग्लैंड में ईसीबी के न्यायाधिकरण में आने वाले सभी क्रिकेटर्स को हर सत्र की शुरुआत और अंतमें हेयर फोलिसाइल टेस्ट देना होता है. इस टेस्ट में प्रतिंबधित दवाओं के सेवन के बारे में तीन महीने तक पता लग सकता है. इस टेस्ट में फेल होने पर खिलाड़ी पर तीन महीने तक का बैन लग सकता है. सवाल इस बात पर भी उठ रहे हैं कि यह बैन केवल तीन सप्ताह का ही क्यों लगा. इसे वर्ल्ड के टाइम टेबल से जोड़ कर देखे जा रहा है. 

ईसीबी नहीं है मुसीबत में क्योंकि
इस मामले में फिलहाल ईसीबी मुसीबत में आता नहीं दिख रहा है, क्योंकि उसके पार वर्ल्ड कप के लिएऔपचारिक रूप से टीम घोषित करने का 23 मई तक का समय हैं. ऐसे में हेल्स का 21 दिन का बैन खत्म होना तय है और तब ईसीबी के पास हेल्स को न चुनने का कोई तकनीकी कारण नहीं रह जाएगा. उल्लेखनीय है कि बेन स्टोक्स वाले विवादित ब्रिस्टल विवाद में एलेक्स हेल्स उस घटना में स्टोक्स के साथी रहे थे. स्टोक्स पर इस मामले का फैसला आने तक बैन लग गया था जिसके कारण वे 2017 के अंत शुरू हुई एशेज सीरीज नहीं खेल सके थे.