close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस एक्ट्रेस ने बच्चों को बताया 'बदलाव का दूत', इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स समिट में कही ये बात

अभिनेत्री ने कहा कि अगर हम हर बच्चे को मानवाधिकारों के बारे में पढ़ाएंगे तो वे भी बदलाव के दूत बन सकते हैं.  भेदभाव, यौन दुर्व्यवहार, घरेलू हिंसा, बाल श्रम, शिक्षा से वंचित होने वाली लड़कियों और बाल विवाह सहित मानवाधिकारों के हनन पर चौहान की नजर है.

इस एक्ट्रेस ने बच्चों को बताया 'बदलाव का दूत', इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स समिट में कही ये बात
शीना चौहान (फोटो साभार- Instagram)

नई दिल्ली: 'एंट स्टोरी' फेम अभिनेत्री शीना चौहान हर बच्चे को बदलाव का दूत बनाने के उद्देश्य से स्कूलों में मानवाधिकार शिक्षा को शामिल करवाने के लिए प्रयासरत हैं. चौहान ने युवाओं को मानव अधिकारों के बारे में शिक्षित करने के लिए एक गैर-लाभकारी संस्था यूथ फॉर ह्यूमन राईट्स इंटरनेशनल के साथ हाथ मिलाया है. वह यूनाईटेड नेशंस यूनिवर्सल डिक्लेरेशन ऑफ ह्यूमन राईट्स-मानव अधिकारों पर ऐतिहासिक दस्तावेज, को स्कूल के पाठ्यक्रम में विषय के तौर पर शामिल कराना चाहती हैं. 

अभिनेत्री ने कहा कि अगर हम हर बच्चे को मानवाधिकारों के बारे में पढ़ाएंगे तो वे भी बदलाव के दूत बन सकते हैं.  भेदभाव, यौन दुर्व्यवहार, घरेलू हिंसा, बाल श्रम, शिक्षा से वंचित होने वाली लड़कियों और बाल विवाह सहित मानवाधिकारों के हनन पर चौहान की नजर है. उन्होंने कहा कि स्कूली दिनों के दौरान मैंने अपने आसपास मानवाधिकार का उल्लंघन होते देखा है. मैंने कई महिलाओं को काम करने के अधिकार, शिक्षा के अधिकार, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार और जीवन के अधिकार से वंचित देखा. 

आमिर-प्रभास देखते रह गए और चीन में 'सुल्तान' बन गए सलमान खान

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 

Thankyou to @outlookindia for the article this morning: “Actress Sheena Chohan of "Ant Story" fame has been vouching for the inclusion of human rights education in schools to make every child an agent for change. Chohan joined hands with the Youth for Human Rights International, a non-profit organization, to teach the youths about human rights. She endorses the inclusion of United Nations Universal Declaration of Human Rights -- a historic document on human rights -- as a school subject. "If we can educate every child about human rights, they too can be ambassadors for change," she said.” Link in bio to see the full article #humanrights #knowyourrights #education #therighttoeducation

A post shared by Sheena Chohan (@sheena_chohan) on

27 व 29 जून को 16वें वार्षिक इंटरनेशनल ह्यूमन राईट्स समिट में शामिल होने के लिए न्यूयॉर्क के लिए उड़ान भरने से पहले चौहान ने कहा कि सबसे बुरा तो नवजात शिशुओं को मारना था, सिर्फ इसलिए क्योंकि वे लड़कियां थीं. ऐसी परिस्थितियों ने ही मुझे मानवाधिकारों के दुरुपयोग के इस माहौल को बदलने का उद्देश्य दिया. वहीं अगर काम की बात करें तो चौहान ने नोबेल पुरस्कार विजेता रविंद्रनाथ टैगोर के उपन्यास पर आधारित, राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निर्देशक बुद्धदेव दासगुप्ता की लघु फिल्मों 'मुक्ति' और 'पत्रलेखा' में भूमिका निभा रही हैं।

पूर्व मिस कोलकाता शीना ने फ्रेजर स्कॉट द्वारा लिखी गई और निर्देशित लघु फिल्म 'टेकन फॉर ए राइड' की शूटिंग पूरी कर ली है. शीना ने 2011 में मलयालम फिल्म 'द ट्रेन' से अभिनय की शुरुआत की थी. उन्हें दुबई और शंघाई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में मोस्टोफा सरवर फारूकी की 'एंट स्टोरी' के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था. यह फिल्म हाल ही में नेटफ्लिक्स पर प्रदर्शित हुई. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें