close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की कास्ट चुनना था मुश्किल, डायरेक्टर ने किया खुलासा

फिल्म को लेकर चल रहा है विवाद, मामला कल सुप्रीम कोर्ट तक जा पहुंचा है...

'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की कास्ट चुनना था मुश्किल, डायरेक्टर ने किया खुलासा

नई दिल्ली:  'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' के निर्देशक विजय रत्नाकर गुट्टे का कहना है कि कहानी के प्रत्येक हिस्से को प्रस्तुत करने के लिए सही कलाकारों का चयन मुश्किल काम था. गुट्टे ने एक साक्षात्कार में आईएएनएस से कहा, "मैंने फिल्म में कलाकारों के चयन में लगभग नौ महीने लगाए. चूंकि फिल्म वास्तविक किरदारों पर आधारित है और सभी लोग उन्हें जानते हैं, लिहाजा वे जनता के दिमाग में रहते हैं. एक फिल्म निर्देशक के रूप में, मुझे इसके लिए सही कलाकारों का चयन करना था. इस तरह के किरदार केवल अच्छे अभिनेता ही निभा सकते हैं."

कास्टिंग टीम का शुक्रिया अदा करते हुए उन्होंने कहा, "हंसल मेहता और उनकी टीम, जो पिछले 20 वर्षो से इस व्यवसाय में हैं, ने मुझे उन कलाकारों के चयन में मदद की, जिन्हें मैं चाहता था. यह एक चुनौतीपूर्ण काम था. सबसे कठिन कास्टिंग संजय बारू की थी, जिसे अक्षय खन्ना ने निभाया है." 

फिल्म बारू द्वारा लिखी गई इसी नाम की पुस्तक पर आधारित है. इसमें अनुपम खेर ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भूमिका निभाई है. इसके अलावा इसमें सुजैन बर्नर्ट, अहाना कुमरा और अर्जुन माथुर जैसे कलाकार भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं.

बता दें कि फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' आज ही को रिलीज हुई है. यह फिल्म ट्रेलर के रिलीज होने के बाद से ही विवादों के घेरे में है. पहले फिल्म के ट्रेलर पर बैन लगाने को लेकर याचिका दायर हुई अब फिल्म पर ही रोक की मांग की जा रही है. यह फिल्म विजय की पहली निर्देशित फिल्म है, यह फिल्म लगातार सुर्खियों में बनी हुई है, ट्रेड पंडितों की माने तो फिल्म के पहले दिन के कलेक्शन काफी अच्छे आने वाले हैं. 

इनपुट आईएएनएस से 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें