close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' को लेकर कोलकाता में हुआ विरोध, रद्द कर दिया गया शो

फिल्म पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पूर्व मीडिया सलाहकार संजय बारू द्वारा लिखित पुस्तक पर आधारित है.

'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' को लेकर कोलकाता में हुआ विरोध, रद्द कर दिया गया शो
युवा कांग्रेस के 100 के करीब कार्यकर्ताओं ने सिनेमाघर के सामने विरोध प्रदर्शन किया (फिल्म पोस्टर)

नई दिल्ली: कोलकाता के एक सिनेमाघर में शुक्रवार को फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' का शो युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन के बीच सुरक्षा कारणों से रद्द कर दिया गया. विजय रत्नाकर गुट्टे द्वारा निर्देशित फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' शुक्रवार को रिलीज हुई. फिल्म पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पूर्व मीडिया सलाहकार संजय बारू द्वारा लिखित पुस्तक पर आधारित है.

पहले दिन ही रद्द किया गया शो
फिल्म में अभिनेता अनुपम खेर, मनमोहन सिंह का और अक्षय खन्ना, संजय बारू का किरदार निभा रहे हैं. मध्य कोलकाता के चांदनी चौक इलाके के हिंद सिनेमा में कुछ दर्शकों ने बताया कि शो पहले दिन स्क्रीनिंग के 10 मिनट बाद ही रद्द कर दिया गया. कोलकाता पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, "सुरक्षा कारणों के चलते 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की दोपहर की स्क्रीनिंग रद्द कर दी गई क्योंकि हॉल के बाहर एक समूह द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा था."

सिनेमाघर के सामने विरोध प्रदर्शन
उन्होंने यह नहीं बताया कि फिल्म का अगला शो दिखाया जाएगा या नहीं. राज्य के युवा कांग्रेस नेतृत्व ने दावा किया कि फिल्म मनमोहन सिंह और कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं के लिए अपमानजनक है. उन्होंने फिल्म को प्रतिबंधित करने की मांग की. बंगाल यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष शादाब खान ने आईएएनएस को बताया, "फिल्म का शीर्षक ही अपमानजनक है. मनमोहन सिंह को एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर बताकर फिल्म निर्माता क्या कहना चाहते हैं? कोलकाता में युवा कांग्रेस के 100 के करीब कार्यकर्ताओं ने सिनेमाघर के सामने विरोध प्रदर्शन किया. अच्छी बात है कि स्क्रीनिंग रोक दी गई है."

फिल्म ने किया पार्टी कार्यकर्ताओं की भावनाओं को आहत
यह पूछे जाने पर कि क्या फिल्म की स्क्रीनिंग को जबरन रद्द कराना अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का उल्लंघन हो सकता है, उन्होंने कहा कि फिल्म ने पार्टी कार्यकर्ताओं की भावनाओं को आहत किया है. उन्होंने कहा, "हमारे कार्यकर्ताओं की भावनाओं के आहत होने के कारण ही यह प्रदर्शन किया गया. हम हालांकि अभी यहां किसी और प्रदर्शन की योजना नहीं बना रहे हैं." (इनपुट IANS से)

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें