पुरुषों से ज्यादा स्मोक करती हैं महिलाएं : WHO की ताजा रिपोर्ट

WHO खुद मान रही है कि इतिहास में इस तरह के आंकड़े पहली बार आए हैं जब स्मोकिंग जैसे जानलेवा काम में पुरुषों की संख्या कम हुई है. 

पुरुषों से ज्यादा स्मोक करती हैं महिलाएं : WHO की ताजा रिपोर्ट
प्रतीकात्मक तस्वीर....

ये अपने आप में पहली बार है जब कोई रिपोर्ट बता रही है कि स्मोकिंग के मामले में भी महिलाएं अब पुरुषों से आगे हो गई हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने अपने ताजा रिपोर्ट में खुलासा किया है कि महिलाएं पूरी दुनिया में पुरुषों से ज्यादा स्मोकिंग करने लगी हैं. WHO खुद मान रही है कि इतिहास में इस तरह के आंकड़े पहली बार आए हैं जब स्मोकिंग जैसे जानलेवा काम में पुरुषों की संख्या कम हुई है. 

म्हारी छोरियां अब छोरों से हो गई आगे
WHO के महानिदेशक टेड्रोस अंधानोम गेब्रियासिस ने कहा ' पिछले दशकों से हम ये देखते आए थे कि पुरुष स्मोकिंग के मामले में बढ़ते जा रहे थे. लेकिन यह पहली बार है जब विभिन्न देशों से इकट्ठा किए गए आंकड़े बता रहे हैं कि महिलाएं पुरुषों से ज्यादा स्मोक करने लगी हैं.' बताते चलें कि भारत में भी ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे (GATS) में लगातार बताया जा रहा है कि तंबाकू और स्मोकिंग के मामले में महिलाएं पुरुषों के बेहद करीब हैं. बीड़ी पीने के मामले में  महिलाएं पहले से ही पुरुषों से ज्यादा हैं. 

कैंसर और गैर-संक्रामक रोगों के बढ़ाती है स्मोकिंग
विभिन्न शोधों में ये साफ पाया गया है कि स्मोकिंग या तंबाकू उत्पादों के इस्तेमाल से कैंसर जैसी घातक बीमारी होती है. इस उत्पादों के इस्तेमाल की वजह से ही दिल की बीमारी, हार्ट अटैक और अन्य गैर संक्रामक रोग होते हैं. 

तंबाकू इस्तेमाल की वजह से मरते हैं 80 लाख 
WHO का कहना है कि पूरी दुनिया में स्मोकिंग व अन्य तंबाकू उत्पाद इस्तेमाल करने की वजह से लगभग 80 लाख लोग मर जाते हैं. इसके अलावा लगभग 12 लाख लोग सिर्फ पैसिव स्मोकिंग की वजह से मरते हैं. ये वो लोग हैं जो स्मोकिंग करने वालो की वजह से प्रभावित होते हैं.