अगर आप के अंदर हैं ये 5 आदतें, तो हमेशा बनी रहेगी टेंशन
X

अगर आप के अंदर हैं ये 5 आदतें, तो हमेशा बनी रहेगी टेंशन

इन 5 आदतों को सुधारकर आप पा सकते हैं टेंशन-फ्री लाइफ। तनाव को दूर रखने के लिए आपको जल्द से जल्द इन आदतों को सुधार लेना चाहिए।

अगर आप के अंदर हैं ये 5 आदतें, तो हमेशा बनी रहेगी टेंशन

तनाव हमारी जिंदगी का अभिन्न हिस्सा है। यह ना सिर्फ हम पर बेहतर प्रदर्शन करने के लिए दबाव बनाता है, बल्कि सफलता भी दिलाता है। मगर जब यह गैर-जरूरी चीजों पर या फिर जरूरत से ज्यादा होने लगे, तो मानसिक सेहत बिगाड़ने लगता है। हमारे अंदर कुछ आदतें ऐसी होती हैं, जो तनाव का कारण बन सकती हैं। अगर आपके अंदर भी ये 5 आदतें हैं, तो आपको हमेशा टेंशन रहेगी।

1. सोशल मीडिया का अधिक इस्तेमाल
आज के समय में हर व्यक्ति अपना सबसे ज्यादा समय सोशल मीडिया पर बिता रहा है। यह आदत काफी नुकसानदायक साबित हो सकती है। कई रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि सोशल मीडिया का अत्यधिक इस्तेमाल आपकी मानसिक सेहत के लिए बुरा हो सकता है। लोग सोशल मीडिया के पोस्ट, लाइक्स, फीडबैक को ज्यादा गंभीरता से ले लेते हैं और तनावग्रस्त हो जाते हैं।

ये भी पढ़ें: बेड पर ही कर सकते हैं ये 5 योगासन, आराम के साथ-साथ सेहत भी

2. कम नींद लेना
कुछ लोगों की आदत होती है कि वह नींद कम लेते हैं। जो कि तनाव का प्रमुख कारण हो सकती है। हमारे शरीर के लिए रोजाना 8-9 घंटे की नींद आवश्यक है। इस दौरान हमारा मस्तिष्क खुद को रिपेयर करता है और रिफ्रेश हो जाता है। अधूरी नींद से आपका मूड खराब रह सकता है और आप अपना बेस्ट परफॉर्मेंस नहीं दे पाते हैं।

3. एक्सरसाइज न करना
एक्सरसाइज या वर्कआउट सिर्फ आपके शारीरिक स्वास्थ्य को बेहतर नहीं बनाता है। बल्कि यह आपके शरीर के अंदर एंडोर्फिन हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ाने में मदद करता है। यह हॉर्मोन तनाव व दर्द को कम करने में मदद कर सकता है। इसलिए, अगर आपके अंदर एक्सरसाइज न करने की आदत है, तो उसे तुरंत बदल लें।

4. ब्रेकफास्ट न करना
भारत में लोग ब्रेकफास्ट को काफी कम महत्व देते हैं। लेकिन यह आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। ब्रेकफास्ट से हमारे शरीर और दिमाग को पूरे दिन के लिए जरूरी पोषण मिलता है। वहीं नाश्ता करना जितना जरूरी है, उतना ही जरूरी है नाश्ते में पौष्टिक खाद्य पदार्थों का सेवन करना।

5. पर्सनल और वर्क लाइफ को मिलाना
वर्क फ्रॉम होम ने लोगों के सामने एक नई चुनौती लाकर खड़ी कर दी है, जो कि पर्सनल और वर्क लाइफ को अलग-अलग रखना है। वर्क लाइफ और पर्सनल लाइफ की अलग-अलग तनाव और चुनौतियां होती हैं। लेकिन जब ये सब तनाव एकसाथ मिल जाता है, तो व्यक्ति के लिए इसे झेलना मुश्किल हो जाता है।

यहां बताई गई जानकारी किसी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है।

ये भी पढ़ें: छाती को मजबूत और चौड़ा बनाने में मदद करेंगी ये पावरफुल चेस्ट एक्सरसाइज

 

Trending news