सर्दी: दादी मां के नुस्खें जो आपको कैसी भी ठंड से बचा सकती हैं

पूरे उत्तर भारत में पड़ रहे कड़ाके की ठंड के बीच हर आदमी इससे बचने के तमाम तरीके अपना रहा है. लेकिन जब भी मौसम इतना सर्द हो तो देसी उपाय ही सबसे कारगर साबित होते हैं. तो आज हम आपको बता रहे हैं नानी मां के नुस्खें जो न सिर्फ आपको ठंड से बचाने में मददगार है, बल्कि इसके कई अन्य फायदे भी हैं. इन नुस्खों की एक और रोचक बात ये है कि आसानी से सभी घरों में उपलब्ध होते हैं और इनके इस्तेमाल के कोई साइड इफेक्ट नहीं हैं.

सर्दी: दादी मां के नुस्खें जो आपको कैसी भी ठंड से बचा सकती हैं
प्रतीकात्मक तस्वीर....

पूरे उत्तर भारत में पड़ रहे कड़ाके की ठंड के बीच हर आदमी इससे बचने के तमाम तरीके अपना रहा है. लेकिन जब भी मौसम इतना सर्द हो तो देसी उपाय ही सबसे कारगर साबित होते हैं. तो आज हम आपको बता रहे हैं नानी मां के नुस्खें जो न सिर्फ आपको ठंड से बचाने में मददगार है, बल्कि इसके कई अन्य फायदे भी हैं. इन नुस्खों की एक और रोचक बात ये है कि आसानी से सभी घरों में उपलब्ध होते हैं और इनके इस्तेमाल के कोई साइड इफेक्ट नहीं हैं.

अदरक
अदरक भारतीय रसोई में आसानी से मिलने वाली चीज है. हम अमूमन चाय बनाने और भोजन के लिए तो इसका इस्तेमाल करते ही हैं. ये सर्दी दूर भगाने में भी बहुत कारगर है. ये न सिर्फ शरीर को गर्म रखने का काम करती है बल्कि शरीर की शक्ति और पाचन को भी सुगम बनाए रखती है. सर्दिओं में खासी झुकाम होना काफी आम बात है लेकिन अदरक का सेवन करने से आप इससे भी बच सकते हैं. अदरक के एक छोटे से टुकड़े को मूंह में रखने और चूसते रहने से गले की खराश और खांसी दोनो में आराम मिलता है.

काली मिर्च
भारतीय खाने में काली मिर्च का योगदान हमेशा से रहा है. पूरी दुनिया को काली मिर्च की सौगात भी भारत ने ही दी है. खाने में स्वाद लाने के साथ ही काली मिर्च हमारे सेहत को दुरुस्त रखने में कामयाब है. काली या सफेद मिर्च सर्दियों में शरीर को गर्म रखने में काफी कारगार साबित होती है. मसाले में मौजूद ऑक्सीडेंट सर्दियों में खांसी और सर्दी से लड़ने में भी सहायक होते हैं. काली मिर्च सर्दी से बचने का एक बेहतरीन उपाय है जिसे आप घरेलु नुस्खे की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं.

हल्दी
हल्दी भारतीय चिकित्सा पद्धति में सबसे गुणी माना गया है. भोजन तैयार करने में अहम भूमिका निभाने वाले हल्दी के इतने गुण हैं कि इसे संजीवनी तक कहा जा सकता है. जख्मों को जल्द ठीक करने, त्वचा को निखारने और अन्य वैज्ञानिक तत्वों से लबरेज हल्दी भारत की विश्व को देन है. हल्दी को पुराने वक़्त से ही कई तरह की दवाइयों में शामिल किया जाता है, हल्दी के अद्भुत उपचार गुण किसी से नहीं छिपे. ठंड भगाने और आराम दिलाने के लिए हल्दी का इस्तेमाल प्राचीन काल से हो रहा है. आप चाहें तो हल्दी को दूध में उबालकर प्रतिदिन एक गिलास पी सकते हैं.

शहद
बिना एक्सपायरी डेट वाले बहुत कम खाद्य पदार्थ मार्केट में अवलेबल है, जिनमें से एक शहद भी है जिसे आप काफी लंबे वक्त तक इस्तेमाल कर सकते हैं. शहद में औषधीय गुण होते हैं जो सर्दियों में सर्दी और फ्लू से निपटने में काफी मदद करते हैं. इसकी गर्माहट शरीर को गर्म और आरामदायक बनाये रखने में मदद करती है.

अंडे
सर्दियों में आपने अक्सर अंडे की कीमतों में बढ़ोतरी होते देखा होगा. लेकिन ये ऊंचे दाम इसलिए होते हैं क्योंकि सर्दियों में गर्मी और प्रोटीन से भरपूर अंडे ताकत देने के स्रोत हैं. अंडे प्रोटीन और विटामिन से भरपूर होते हैं, और सर्दियों में शरीर को किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ने में भी मदद करते हैं. अंडे न सिर्फ शरीर में ऊर्जा को बढ़ाते हैं, बल्कि शरीर को गर्म रखते हैं पर इसको ज्यादा खाने से भी आपको शरीर में परेशानी का सामना करना पड़ता है. सबसे अच्छी बात ये है कि अंडे को खाने के लिए दर्जनों तरीके हैं. उबाल कर या फ्राई करके या फिक हाफ फ्राई या फिर करी बनाकर खाया जा सकता है.