close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

RPF के 9000 पदों पर जल्‍द होगी भर्ती, आधे पद महिलाओं के लिए आरक्षित

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने राज्‍यसभा में बताया है कि रेलवे सुरक्षा बल में 4216 कांस्टेबलों और 201 उप निरीक्षकों के पद पर महिलाओं की भर्ती की जाएगी.

RPF के 9000 पदों पर जल्‍द होगी भर्ती, आधे पद महिलाओं के लिए आरक्षित
रेल मंत्रालय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों के आधार पर आधे पदों पर महिलाओं को भर्ती करने का फैसला लिया है. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: रेलवे सुरक्षा बल यानी आरपीएफ में खाली पड़े 9000 पदों पर जल्‍द भर्ती प्रक्रिया पूरी की जाएगी. रेल मंत्रालय ने खाली पड़े इन पदों में आधे पद महिलाओं के लिए आरक्षित करने का फैसला किया है. यह जानकारी रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को राज्‍यसभा में प्रश्‍नकाल के दौरान दी है. उन्‍होंने बताया कि आरपीएफ में महिलाओं की संख्‍या सिर्फ 2.25 प्रतिशत है. आरपीएफ में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए अगली भर्ती में  आधे पदों पर महिलाओं को भर्ती करने का फैसला किया है. 

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि मंत्रालय ने यह फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों के आधार पर लिया है. उल्‍लेखनीय है कि बिहार में सभी नौकरियों में महिलाओं को 35 प्रतिशत आरक्षण देने के तर्ज पर केन्द्र सरकार द्वारा भी महिलाओं को आरपीएफ में आरक्षण दिए जाने के बाबत पूरक प्रश्न पूछा गया था. जिसके जवाब में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि केन्द्र सरकार के स्तर पर इस तरह के आरक्षण का कोई प्रावधान नहीं किया गया है.

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि 8619 कांस्टेबलों और 1120 उप निरीक्षकों के पदों पर भर्ती प्रक्रिया 2018 में शुरु हो कर दी गई थी. जिसमें से 4216 कांस्टेबलों और 201 उप निरीक्षकों के पद पर महिलाओं की भर्ती की जाएगी. एक अन्य सवाल के जवाब में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने बताया कि रेलवे में सुरक्षा से जुड़ी ‘‘त्रि-नेत्र तकनीक’’ का सघन परीक्षण चल रहा है. उन्होंने बताया कि कोहरे में रेलवे ट्रैक पर किसी भी प्रकार की बाधा को पहचानने में सक्षम इस तकनीक का परीक्षण पूरा कर, इस प्रयोजन के लिए इस्तेमाल में लाये जाने के माकूल पाये जाने तक इसे लागू नहीं किया जा सकता है. 

उन्होंने बताया कि रेलवे स्टेशनों पर पेयजल की पुख्ता व्यवस्था करने के लिये छोटे रिवर्स ऑस्मोसिस प्लांट लगाये जायेंगे.