Bihar Crime : भोजपुर में हथियारबंद बदमाशों ने अधेड़ को मारी गोली, अस्पताल में चल रहा इलाज
topStories0hindi1563582

Bihar Crime : भोजपुर में हथियारबंद बदमाशों ने अधेड़ को मारी गोली, अस्पताल में चल रहा इलाज

जख्मी अधेड़ उदवंतनगर थाना क्षेत्र के देवरिया गांव निवासी अवध बिहारी सिंह के 49 वर्षीय पुत्र अशोक सिंह है. घटना को लेकर गांव एवं आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है.

Bihar Crime : भोजपुर में हथियारबंद बदमाशों ने अधेड़ को मारी गोली, अस्पताल में चल रहा इलाज

भोजपुर : भोजपुर जिले के उदवंतनगर थाना क्षेत्र के देवरिया पुल के समीप मंगलवार की रात हथियारबंद बदमाशों ने एक अधेड़ को गोली मार दी. जख्मी अधेड़ को गोली दाहिने पैर में घुटने के नीचे लगी है. गोली लगते ही अधेड़ जख्मी हालत में खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़े. जिसके बाद उनके साथ रहे भतीजे द्वारा उन्हें इलाज के लिए आरा शहर के बाबू बाजार स्थित निजी अस्पताल लाया गया जहां उनका इलाज कराया जा रहा है.

क्या है पूरा मामला
बता दें कि जख्मी अधेड़ उदवंतनगर थाना क्षेत्र के देवरिया गांव निवासी अवध बिहारी सिंह के 49 वर्षीय पुत्र अशोक सिंह है. घटना को लेकर गांव एवं आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई है. घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय थाना घटनास्थल पर पहुंच मामले की छानबीन में जुट गई है. इधर अशोक सिंह ने बताया कि वह अपने भतीजे विष्णु पांडेय के साथ बाइक से आरा अपने रिश्तेदार के यहां आए थे. मंगलवार की रात जब वह वापस अपने भतीजे विष्णु पांडेय के साथ बाइक पर पीछे बैठकर वापस अपने गांव लौट रहे थे. लौटने के क्रम में जैसे ही उनकी बाइक देवरिया पुल के समीप पहुंची. तभी पीछे से आ रहे बाइक सवार ने उन्हें गोली मार दी. जिससे वह गंभीर रुप से जख्मी हो गए. जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए आरा शहर के बाबू बाजार स्थित निजी अस्पताल लाया गया जहां उनका इलाज कराया जा रहा है.

मामले की जानकारी देने से बच रही पुलिस
दूसरी ओर जख्मी अधेड़ अशोक सिंह ने उक्त लोगों से किसी प्रकार के विवाद या दुश्मनी की बातों से साफ इंकार किया है. हालांकि पुलिस अपने स्तर से मामले की छानबीन कर रही हैं. इलाज कर रहे सर्जन चिकित्सक डॉ.विकास सिंह ने बताया कि एक अधेड़ को दाहिने पैर में घुटने के नीचे गोली लगी थी. गोली लगने के कारण उनके पैर की हड्डी फ्रैक्चर कर गई है और खून भी काफी बह रहा था. खून को सिक्योर कर दिया गया है और उन्हें स्लैब लगा दिया गया है. मरीज की स्थिति अभी बिल्कुल स्टेबल है. हालांकि पुलिस ने इस मामले पर अभी कुछ भी कहने से इन्कार किया है.

इनपुट-  मनीष कुमार 

ये भी पढ़िए- Valentine's Week 2023 Special: 9 साल के लंबे संघर्ष के बाद हुई बस में मिली प्रेमिका से शादी, कुछ ऐसी हैं मंत्री शाहनवाज हुसैन की लव स्टोरी

Trending news