बीजेपी सुशासन दिवस के रूप में मनाएगी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिवस

बीजेपी ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस यानि 25 दिसंबर को देशभर में सुशासन दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है. 

बीजेपी सुशासन दिवस के रूप में मनाएगी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिवस
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी इससे संबंधित कार्यक्रमों में शरीक होंगे.

नई दिल्ली: बीजेपी ने पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस यानि 25 दिसंबर को देशभर में सुशासन दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी इससे संबंधित कार्यक्रमों में शरीक होंगे. पीएम मोदी सुबह सदैव अटल स्मारक पर जाकर वाजपेयी को याद करेंगे. वहीं, पार्टी ने अपने सभी सांसदों, मंत्रियों, विधायकों, पार्षदों और अन्य जनप्रतिनिधियों को पत्र भेजकर सुशासन दिवस में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है.

सभी जनप्रितिनिधि उस दिन अपने अपने क्षेत्रो में जनकल्याण से सम्बंधित मोदी सरकार की उपलब्धियों और कार्यक्रमो को जनता तक ले जाएंगे. सबसे महत्वपूर्ण होगा धारा 370 हटाने और नागरिकता कानून को जनता तक पहुचाना. इसके अलावा अटलजी के लिए काव्यांजलि के लिए कवि सम्मेलन होगा. धारा 370 आदि मुद्दों पर कविताएं होंगी. 'सदैव अटल' कार्यक्रम बीजेपी  मुख्यालय पर भी होगा जिसमे नड्डा भी शामिल होंगे. कई सेवा कार्य भी आयोजित किए जाएंगे. जिला स्तर पर बुद्धिजीवी सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे. इस दिन पार्टी के सभी कार्यकर्ता स्वक्षता, वन टाइम प्लास्टिक मुक्ति और नए भारत का संकल्प लेंगे.