नतीजों के बाद भी BJP के लिए नहीं बदला बंगाल, एक और कार्यकर्ता की हत्या

कदाहा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, चकदाहा में संतू घोष को उसके घर के बाहर शुक्रवार रात गोली मार दी गई और अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. जांच जारी है.

नतीजों के बाद भी BJP के लिए नहीं बदला बंगाल, एक और कार्यकर्ता की हत्या
प्रतीकात्मक तस्वीर

कोलकाता: लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election Results 2019) के परिणाम घोषित होने के बाद समूचे पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच व्यापक संघर्षों के बीच नादिया जिले में एक कथित भाजपा समर्थक की गोली मारकर हत्या कर दी गई. चकदाहा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, चकदाहा में संतू घोष को उसके घर के बाहर शुक्रवार रात गोली मार दी गई और अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया. अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. जांच जारी है.

भाजपा कार्यकर्ताओं ने यह दावा करते हुए एक राष्ट्रीय राजमार्ग और रेल पटरियां शनिवार को दो घंटे के लिए जाम कर दीं कि घोष तृणमूल छोड़कर भाजपा के लिए काम करने लगा था. भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के कारण सियालदह मंडल में रेल सेवाएं बाधित रहीं. 

लाइव टीवी देखें

तृणमूल नेताओं ने हालांकि इस घटना में पार्टी की संलिप्तता से इनकार किया है और आरोप लगाया है कि भाजपा कार्यकर्ता इलाके में हिंसा भड़का रहे हैं. हाल में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस को 22 सीटें मिलीं, जबकि भाजपा ने 18 सीटें जीतकर बड़ी सफलता हासिल की. कांग्रेस मात्र दो सीटें जीतने में कामयाब रही. भाजपा की सीट संख्या 2014 से 16 अधिक है.