दिल्‍ली एयरपोर्ट: अमेरिकी नागरिक को CISF ने किया गिरफ्तार, बैग से मिला फर्जी पासपोर्ट

इस विदेशी नागरिक के हैंड बैग की तलाशी के दौरान सीआईएसएफ ने दो पासपोर्ट बरामद किए. जिसमें एक पासपोर्ट अमेरिका की एजेंसियों द्वारा जारी किया गया था, जबकि दूसरा पासपोर्ट अफगानी था. 

दिल्‍ली एयरपोर्ट: अमेरिकी नागरिक को CISF ने किया गिरफ्तार, बैग से मिला फर्जी पासपोर्ट
फाइल फोटो

नई दिल्‍ली: दिल्‍ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट से सीआईएसएफ ने एक विदेशी नागरिक को हिरासत में लिया है. हिरासत में लिया गया नागरिक मूल रूप से अमेरिका के मैक्सिको का रहने वाला है. उसके कब्‍जे से एक अफगानी पासपोर्ट बरामद किया गया है. जिसके बाद सीआईएसएफ ने इस विदेशी नागरिक को इमीग्रेशन अधिकारियों के हवाले कर लिया. इमीग्रेशन अधिकारियों ने जांच में अफगानी पासपोर्ट को फर्जी पाया. फिलहाल, इमीग्रेशन विभाग ने विदेशी नागरिक को दिल्‍ली एयरपोर्ट पुलिस के हवाले कर लिया है. दिल्‍ली एयरपोर्ट पुलिस ने आरोपी विदेशी नागरिक के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है. 

सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, संदिग्‍ध मुसाफिरों पर नजर रखने के लिए सीआईएसएफ इंटेलीजेंस की टीम टर्मिनल के बाहर तैनात थी. सीआईएसएफ इंटेलीजेंस विंग के अधिकारियों को एक विदेशी नागरिक की गतिविधियों पर शक हुआ. जिसके चलते, इस विदेशी नागरिक को पूछताछ के लिए ले जाया गया. इस विदेशी नागरिक के हैंड बैग की तलाशी के दौरान सीआईएसएफ ने दो पासपोर्ट बरामद किए. जिसमें एक पासपोर्ट अमेरिका की एजेंसियों द्वारा जारी किया गया था, जबकि दूसरा पासपोर्ट अफगानी था. एक ही शख्‍स के पास दो पासपोर्ट बरामद होने के बाद सीआईएसएफ के अधिकारी सकते में आ गए. उन्‍होंने तत्‍काल इस बाबत इमीग्रेशन अधिकारियों को सूचना दी. 

सीआईएसएफ के वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि इस विदेशी नागरिक की पहचान रैंडी अब्रेगो के रूप में हुई. यह शख्‍स मूल रूप से मैक्सिको का रहने वाला है. पूछताछ के दौरान, उसने बताया कि वह लुफ्थांसा एयरलाइंस की फ्लाइट से टोरंटो के लिए रवाना होने वाला था. आरोपी विदेशी युवक अफगानी पासपोर्ट को लेकर कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे सका. जिसके बाद इमीग्रेशन विभाग ने इस विदेशी शख्‍स को दिल्‍ली एयरपोर्ट पुलिस के हवाले कर दिया. वहीं, इस घटना के बाबत दिल्‍ली एयरपोर्ट पुलिस ने अमेरिकी दूतावास को सूचना दे दी है और संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है.