close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सड़क पर चलती है ऑटो एम्बुलेंस, सवारी बिठाने के साथ ही लोगों की मदद भी करती है

हरजिंदर सिंह ने ज़ी न्यूज़ को बताया की सन 1976 से वो दिल्ली में ऑटो चलाते हैं..और अपने ऑटो के पीछे लिखवा रखा है की ' फ्री एम्बुलेन्स ' और ' शुगर की दवाई फ्री दी जाती है' और अपना मोबाइल नम्बर भी लिखवा रखा है.

सड़क पर चलती है ऑटो एम्बुलेंस, सवारी बिठाने के साथ ही लोगों की मदद भी करती है

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली की भागम-भाग भरी लाइफ में जहां किसी के पास किसी दूसरे के लिए टाइम नहीं है ,जहां जरुरतमंद लोगों को नजर अंदाज कर लोग आगे बढ़ जाते हैं. वहीं इसी दिल्ली की सड़क पर एक ऐसा ऑटो भी चलता है भी जो सवारी लेकर जाने का काम तो करता ही है साथ ही लोगों की मदद भी करता है. हम यूं कहें कि ये ऑटो नहीं ये 'ऑटो एम्बुलेन्स' है तो यह गलत नहीं होगा. ये ऑटो अब तक कई घायल लोगों की मदद कर चुका है. इस ऑटो के ड्राइवर सरदार हरजिंदर सिंह ने अपने 76 साल की उम्र ऐसे लोगों की जान बचाई. कई बार ऐसा हुआ कि अगर हरजिंदर उस वक्त वहां नहीं होते तो उस शख्स की जान नहीं बच पाती. 

हरजिंदर सिंह ने ज़ी न्यूज़ को बताया की सन 1976 से वह दिल्ली में ऑटो चलाते हैं. उन्होंने अपने ऑटो के पीछे लिखवा रखा है, 'फ्री एम्बुलेन्स,  शुगर की दवाई फ्री दी जाती है' इसके साथ ही उन्होंने मोबाइल नम्बर भी लिखवा रखा है. हरजिंदर अपने साथ एक बड़ा फर्स्ट एड बॉक्स भी लेकर चलते हैं.

हरजिंदर ने बताया की जब भी वह रोड पर किसी का एक्सीडेंट देखते हैं और कोई शख्स घायल होता है तो उसे फ्री में अस्पताल पहुचाते हैं. इसके साथ ही किसी का अगर शुगर की दवाई के लिए कॉल आता है तो उसका नम्बर, नाम और पता वह अपनी डायरी में नोट कर लेता हैं. जब कभी सवारी लेकर उस इलाके में जाना होता है तो उसके घर पर दवाई पहुंचा देता हैं.

हरजिंदर सिंह को पिछले कई सालों में पुलिस की तरफ से प्रोत्साहन प्रमाण पत्र भी मिल चुका है. हरजिंदर सिंह के दो बच्चे हैं.जिसमे एक बेटा ऑटो चलाता है और दूसरा ग्रामीण सेवा का चालक है. हरजिंदर ने बताया की उनको लोगों की सेवा करना बहुत अच्छा लगता है.उनके गुरुओं ने उन्हें यही सिखाया है.