ATM में रहें सावधान, डेबिट कार्ड क्लोन कर खाते से निकाले गए पैसे

जून के महीने में दिल्ली के कड़कड़डूमा इलाके में एक साथ 10 से 12 लोगों के एटीएम क्लोनिंग के जरिए पैसे निकाल लिए गए. 

ATM में रहें सावधान, डेबिट कार्ड क्लोन कर खाते से निकाले गए पैसे
(प्रतीकात्मक फोटो)

नई दिल्ली: स्किमिंग डिवाइस के जरिए डेबिट कार्ड को क्लोन कर अकाउंट से पैसे निकालने की घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही है. पिछले दिनों में दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में इस तरह की कई घटनाएं सामने आई हैं जिसमें एटीएम क्लोनिंग के जरिए लोगों के अकाउंट से पैसे डेबिट किए गए. 

जून के महीने में दिल्ली के कड़कड़डूमा इलाके में एक साथ 10 से 12 लोगों के एटीएम क्लोनिंग के जरिए पैसे निकाल लिए गए. जो लोग एटीएम क्लोनिंग का शिकार हुए उनका कहना है कि 2 जून को सैनी एन्क्लेव के पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम से पैसे निकाले लेकिन जैसे ही घर पहुंचे तो उनके अककॉउंट से पैसे डेबिट होना शरू हो गया. 

किसी के पैसे उसी दिन तो किसी के दूसरे दिन अकाउंट से निकाल लिए गए. लोगों ने पुलिस में शिकायत की और इसके बाद जब जांच शुरू हुई तो पता चला कि पैसे वसंत विहार के किसी प्राइवेट बैंक के एटीएम से निकाले गए हैं. 

कई लोगों के अकाउंट से निकाले गए पैसे
परचून की दुकान चलाने वाले चंद्रकांत शर्मा ने बताया कि उन्होंने 2 जून को पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम से पैसे निकाले थे लेकिन इसके बाद इनके अकाउंट से 45 000 हजार रुपये निकाल लिए गए. सरकारी नौकरी करने वाली किम का कहना है कि उन्होंने भी इसी एटीएम से पैसे निकाले, इसके बाद उनके अकाउंट से तीन बार पैसा डेबिट हो गया. बिल्कुल इसी तरह इंदर शर्मा, नीलम शर्मा, महेंद्र सिंह के अकाउंट से भी पैसे निकाले गए. सभी के पैसे वसंत विहार के एक एटीएम से निकाले गए. 

इन लोगों की शिकायत के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है लेकिन अभी तक कोई ग्रिफ्तारी नही हुई है. बिल्कुल इसी तर्ज पर दो महीने पहले तिलक नगर इलाके में एक साथ 80 से ज्यादा लोगों के एटीएम क्लोन कर पैसे निकाले गए थे.

एटीएम कार्ड क्लोन कैसे होता है. 
पुलिस की जांच में दो तरीके सामने आए हैं.
पहला एटीएम मशीन में जिस जगह कार्ड स्वैप करते है. उसी जगह कार्ड स्किमिंग डिवाइस लगा दिया जाता है. इस डिवाइस में एटीएम की सारी डिटेल आ जाती है. फिर जिस जगह एटीएम मशीन का की-पेड होता है वहां पिन कैमरा ओर इ-चिप लगा दी जाती है. ताकि आप का पिन उस कैमरे में स्कैन हो जाए. फिर उसी डेटा के जरिए आपके एटीएम का क्लोन तैयार कर आपकी गाढ़ी कमाई निकाल ली जाती है.

दूसरा तरीका यह है की जब आप एटीएम से पैसे निकालने जाते है और ओर एटीएम में जैसे पिन ओर अपनी डिटेल्स डालते है और किसी कारण पैसे नही निकलते है तो ठीक इसी वक्त कोई शख्स बिना मांगे आपकी मदद करने आता है. वह ख्स एटीएम का एक बटन पुश कर कुछ देर के लिए हैंग कर देता है. और फिर आप के जाने के बाद उसी एटीएम के जरिये पैसे निकाल लेता है, क्योंकि आपने पिन नंबर सहित अपनी एटीएम से जुड़ी सारी जानकारी पहले की डाल चुके होते है.

पुलिस का कहना है कि जब भी आप एटीएम से पैसे निकालने जाते हैं तो सतर्क रहें, सावधानी से पैसे निकले. एटीएम मशीन में जिस जगह कार्ड स्वैप की जगह होता वहां अपने हाथों से चेक करें कि कोई ऐसा डिवाइस तो नही लगी है. जहां पर एटीएम का की पेड होता है उस जगह से भी चेक करें . वहीं एटीएम से पैसे निकालते वक्त कोई बिना मांगे मदद करने आएं तो ऐसे शख्स से भी सावधान रहें.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.