दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े चार इनामी गैंगस्टर

चार इनामी गैंगस्टर की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने दो सनसनीखेज वारदात का खुलासा किया.

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के हत्थे चढ़े चार इनामी गैंगस्टर
दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की गिरफ्त में आए चार इनामी गैंगस्टर

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने चार इनामी गैंगस्टर को गिरफ्तार किया है. इनकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने दो सनसनीखेज वारदात का खुलासा किया. पहली हत्या की वारदात को 2006 में अंजाम दिया गया जबकि दूसरी अपहरण की वारदात को 2016 अंजाम दिया गया था जिसमें बदमाशों ने 50 करोड़ की फिरौती मांगी थी. एक करोड़ की रकम भी दी गई थी. पकड़े गए आरोपियों में दो पेरोल पर बाहर निकले थे लेकिन उसके बाद से फरार चल रहे थे. 

पकड़े गए बदमाशो का नाम दीपक, सुरेंद्र, विजय ओर महेश ठेकेदार हैं. क्राइम ब्रांच के एक कांस्टेबल को जानकारी मिली थी दीपक पानिपत के एक गांव छुपा हुआ है. दीपक की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने छापेमारी कर महेश ठेकेदार ओर विजय ओर सुरेंद्र को गिरफ्तार किया. पुलिस की दबिश के दौरान महेश पहली मंजिल से कूद कर भागने लगा था. लेकिन जैसे ही वह नीचे गिरा, उसके पैर में चोट आ गई और वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया.

महेश ने साल 2006 में भूपेंद्र नाम के एक शख्स की हत्या की थी क्योंकि भूपेंद्र महेश की चचेरी बहन से पयार करता था. और उससे शादी करने वाला था. ये बात महेश को नागवार गुजरी ओर उसने अपने साथियों के साथ मिलकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया. वहीं दूसरी घटना साल 2016 की है. जहां राजधानी देल्ली के शालीमार बाग इलाके में एक व्यपारी के 20 साल के बेटे को बीएमडब्ल्यू कार से अग़वा कर लिया गया था. फिरौती के लिए 50 करोड़ की मांग की गई थी. 

2 करोड़ में डील हुई थी. लड़के के पिता ने एक करोड़ रकम भी दी थी. बाकी पैसा किस्तों में दिया जाना था. लड़के की गुरुग्राम से छुड़ाया गया था. पुलिस ने आरोपियों के पास से एक कार, पिस्टल ओर काफी संख्या में कारतूस भी बरामद किया है.