पत्नी के चरित्र पर था शक, पति ने बेटी की हत्या की; रातभर लाश के साथ सोता रहा

पुलिस ने बताया बुधवार रात को जब वह घर आया तो पत्नी से दोबारा झगड़ा हुआ. देर रात सभी सोने के लिए चले गए. इस बीच उसने बेटी की चुन्नी से गला घोंटकर हत्या कर दी. 

पत्नी के चरित्र पर था शक, पति ने बेटी की हत्या की; रातभर लाश के साथ सोता रहा
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी मलकीत...

 

नई दिल्ली: दिल्ली के निहाल विहार इलाके में पति ने पत्नी के चरित्र पर शक होने के कारण अपनी चार साल की बच्ची की गला घोटकर हत्या कर दी. सुबह जब पुलिस को इसकी जानकारी मिली तब आरोपी पिता को गिरफ्तार किया गया. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. पत्नी के चरित्र पर शक की वजह से रोज झगड़ा होता था. पिता चाहता था बेटी मां के साथ न रहे.  

जानकारी के अनुसार, आरोपी मलकीत सिंह परिवार सहित तिलक नगर इलाके में रहता था. करीब पांच साल पहले परिवार वालों की सहमति से उसकी शादी हुई थी. शादी के बाद पति-पत्नी निहाल विहार इलाके के उदय विहार में किराए के मकान में रहने के लिए आ गए. इनकी चार साल की बेटी थी. मलकीत (30) ऑनलाइन फूड डिलवरी करने वाली कंपनी में डिलवरी ब्वॉय के तौर पर काम कर रहा था. 

पुलिस के अनुसार पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसे अपनी पत्नी के चरित्र पर शक था. उसे लगता था कि वह ड्यूटी के सिलसिले में बाहर रहता है, उस दौरान उससे कोई मिलने आता है. इसी शक की वजह से वह अपनी पत्नी से झगड़ा करने लगा. फिर शराब पीकर आना और रोज मारपीट करना उसकी आदत में शुमार हो गया. आरोपी पति चाहता था कि उसकी बेटी अपनी मां के साथ नहीं रहे. उसे लगता था कि पत्नी की गलत आदतों का प्रभाव बेटी पर पड़ेगा और वह भी गलत रास्ते पर निकल जाएगी. इस वजह से उसने बेटी की हत्या करने की सोची.  

फांसी लगाकर खुद भी करना चाहता था सुसाइड 
पुलिस ने बताया बुधवार रात को जब वह घर आया तो पत्नी से दोबारा झगड़ा हुआ. देर रात सभी सोने के लिए चले गए. इस बीच उसने बेटी की चुन्नी से गला घोंटकर हत्या कर दी. करीब साढ़े बारह बजे हत्या करने के बाद वह अपनी बेटी के साथ वहीं पर सोया रहा. पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह फांसी का फंदा लगाकर खुद भी मरना चाहता था. इसके लिए वह सुबह छह बजे तैयारी कर रहा था. तभी उसकी पत्नी जग गईं. तब मलकीत ने बेटी की तबियत खराब होने का बहाना बनाया. इस पर पत्नी ने उसे अस्पताल लेकर चलने को कहा.

मलकीत जब बच्ची लेकर जा रहा था पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति को संदेह हुआ तो उसने पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने मलकीत को उसके तिलक नगर स्थित घर से खोज निकाला और बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया. इसके बाद पुलिस ने आरोपी मलकीत को गिरफ्तार कर लिया.