close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अंडर-19 क्र‍िकेट टीम में खिलाने के नाम पर जूनियर खिलाड़‍ियों ठगते थे पैसे, पुलि‍स ने ऐसे दबोचा

गिरफ्तार आरोपी हरीश जमाल ने पुलिस पुछताछ में माना कि उसने खिलाड़ियों को मैच में खिलाने के नाम पर पैसे लिये और कुछ खिलाड़ियों को 2 मैचों में खिलाया भी है.

अंडर-19 क्र‍िकेट टीम में खिलाने के नाम पर जूनियर खिलाड़‍ियों ठगते थे पैसे, पुलि‍स ने ऐसे दबोचा

नई दिल्‍ली: दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने खिलाड़ियों से पैसे लेकर मैच खिलाने के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तार आरोपी हरीश जमाल और रवि दलाल अकेडमी में आने वाले खिलाडियों को रणजी और उत्तर-पूर्वी राज्यों की अंडर 19 टीम खिलाने के नाम पर पैसे लेते थे. गिरफ्तार आरोपी हरीश जमाल ने पुलिस पुछताछ में माना कि उसने खिलाड़ियों को मैच में खिलाने के नाम पर पैसे लिये और कुछ खिलाड़ियों को 2 मैचों में खिलाया भी है.

BCCI को पिछले काफी समय से शिकायत मिल रही थी कि दिल्ली में किक्रेट एकेडमी चलाने वाले कुछ लोग खिलाड़ियों को रणजी टीम और दूसरी टीमों में सि‍लेक्शन के नाम पर पैसे ले रहे हैं. सिलेक्टर्स के साथ मिल कर उन्हे अंडर 19 टीम में खिला रहे हैं. इसी के बाद BCCI मे 6 मार्च को दिल्ली क्राइम ब्रांच को मामले कि शिकायत दी.

शिकायत में बताया गया कि आरोपियों ने  खिलाड़ी कनिष्क गौड़ और शिवम से 11 लाख और 4 लाख रुपये लिये गये. कनिष्क से 11 लाख रुपये लिये और कहा गया कि उसे रणजी टीम में गेस्ट प्लेयर के तौर पर खिलाया जायेगा, लेकिन उसे उत्तर पूर्वी राज्य की अंडर-19 टीम में फर्जी बर्थ सर्टीफिकेट बनाकर दो मैचों में खिलाया गया. वहीं शिवम से चार लाख रुपए लिये और अंडर 23 कैटेगरी में खिलाने को कहा गया, लेकिन किसी मैच में मौका नहीं मिला. 

क्राइम ब्रांच ने इसी शिकायत पर कारवाई करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस ने बताया कि हरीश जमाल पूर्व किक्रेटर है और फिलहाल एक एकेडमी में असिस्टेंट कोच है. दूसरा आरोपी रवि दलाल दिल्ली के पीतमपुरा में फ्रैंड्स एकेडमी में कोच है. पुलिस के मुताबिक इन दोनो गिरफ्तार आरोपियों से जांच के बाद कुछ और आरोपियों की गिरफ्तारी भी जल्दी हो सकती है.