हरियाणा: आदमपुर एरिया के सरकारी स्कूल को 3 टीचर्स ने किया शर्मसार, 40 स्टूडेंट्स ने लगाएं गंभीर आरोप

सुनीता यादव ने जब बच्चों से बातचीत की, तो यह कृत्‍य सामने आए. बच्चियों ने अधिकारी के सामने बताया​ कि उनके साथ गलत व्यवहार किया जाता है. 

हरियाणा: आदमपुर एरिया के सरकारी स्कूल को 3 टीचर्स ने किया शर्मसार, 40 स्टूडेंट्स ने लगाएं गंभीर आरोप
फाइल फोटो...

हिसार : हिसार (HISAR) के आदमपुर इलाके के सरकारी स्कूल में पढ़ रही स्टूडेंट्स के साथ छेड़छाड़ और अमानवीय शारीरिक दंड देने का मामला सामने आया है. इस मामले में पुलिस ने अब तक 2 टीचर्स को गिरफ्तार कर लिया है. इस पूरे प्रकरण का खुलासा बाल सरंक्षण अधिकारी सुनीता यादव की तफ्तीश में उस वक्त हुआ था, जब वो गुड टच, बैड टच की जानकारी देने के लिए स्कूल में गई थी. पुलिस ने स्कूल के तीन शिक्षकों के खिलाफ पोक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया था.

आरोपितों में टीचर प्रदीप, धर्मपाल और विष्णु शामिल है. जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के चलते स्कूल के बारे में तो ज्यादा नहीं बताया जा सकता, लेकिन इस स्कूल में पिछले 16 साल से कोई महिला अध्यापक नहीं थी. हाल ही में एक महिला अध्यापक की यहां ज्वाइनिंग हुई थी. बस उस टीचर के आने के बाद ही इस पूरे प्रकरण के खुलासे हुए हैं. सोमवार को बाल सरंक्षण विभाग की अधिकारी सुनीता यादव इस स्कूल में गुड टच-बैड टच की जानकारी देने के लिए पहुंची थीं.

सुनीता यादव ने जब बच्चों से बातचीत की, तो यह कृत्‍य सामने आए. बच्चियों ने अधिकारी के सामने बताया​ कि उनके साथ गलत व्यवहार किया जाता है. बिना परमिशन के अतिरिक्त कक्षा लगाई जाती थीं. कुल 40 के करीब स्टूडेंट्स से बातचीत की गई. अधिकारी ने बताया कि 25 बच्चों के बयान पुलिस को दी शिकायत में संकलित किए गए हैं, जिसमें उन्होंने टीचर्स पर गंभीर आरोप जड़े हैं. साथ ही जांच में सामने आया कि जिस एरिया में सीसीटीवी कैमरे की पहुंच नहीं थी, उस एरिया में बच्च्यिों के साथ आरोपी टीचर्स गलत हरकतें करते थे.


हिसार मामले की जानकारी देती बाल संरक्षण विभाग की अधिकारी यादव...

अधिकारी का कहना है कि स्कूलों को लेकर विशेष अभियान चलाया जाएगा, ताकि इस प्रकार के वाक्ये और कहीं ना हों. जिन टीचर्स पर आरोप लगे हैं, उनमें से विष्णु और धर्मपाल की गिरफ्तारी हो चुकी है. साथ ही पुलिस अभी इस पूरे मसले की हर एंगल से जांच कर रही है. शिक्षा विभाग की तरफ से भी स्कूल में कार्रवाई करते हुए कंप्यूटर लैब पर ताला जड़ दिया गया है. देखना यहीं होगा कि जांच में और क्या निकल कर सामने आता है.