close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पंचतत्‍व में विलीन हुईं शीला दीक्षित, नम आंखों से हजारों लोगों ने दी विदाई

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का रविवार को यहां अंतिम संस्कार कर दिया गया.

पंचतत्‍व में विलीन हुईं शीला दीक्षित, नम आंखों से हजारों लोगों ने दी विदाई
निगमबोध घाट पर शीला दीक्षित को दी गई मुखाग्नि.

नई दिल्‍ली : दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित का अंतिम संस्‍कार आज दिल्‍ली के निगमबोध घाट पर किया गया. उनके अंतिम संस्‍कार में यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी समेत कई बड़े नेता शामिल हुए. उनके अंतिम संस्‍कार के वक्‍त उनके हजारों समर्थक मौजूद थे. गृह मंत्री अमित शाह भी भारी बारिश के बीच शीला दीक्षित के अंतिम दर्शनों के लिए पहुंचे. शीला दीक्षित को अंतिम विदाई देने के लिए दिल्ली के तमाम नेताओं का जमावड़ा रहा.

सुबह शीला दीक्षित के पार्थिव शरीर को निजामुद्दीन स्थित उनके आवास से कांग्रेस मुख्‍यालय ले जाया गया. वहां उनके पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया. उनके अंतिम दर्शनों के लिए बड़ी संख्‍या में लोग पहुंचे. मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने भी कांग्रेस मुख्‍यालय पहुंचकर शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि दी.

शीला दीक्षित के अंतिम दर्शन करने और उन्‍हें श्रद्धांजलि देने कांग्रेस मुख्‍यालय सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी भी पहुंचीं. सोनिया गांधी ने उनके अंतिम दर्शन करने के बाद कहा कि शीला दीक्षित हम सबके दिल में बसी हैं. यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि शीला दीक्षित ने उन्‍हें हमेशा सपोर्ट किया. वह मेरी बड़ी बहन और सहेली थीं. कांग्रेस के लिए यह बड़ी क्षति है. हम उन्‍हें हमेशा याद रखेंगे.


सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी ने दी शीला दीक्षित को श्रद्धांजलि. फोटो ANI 

बीजेपी के वरिष्‍ठ नेता लालकृष्‍ण आडवाणी और सुषमा स्‍वराज ने शीला दीक्षित के आवास जाकर उन्‍हें श्रद्धांजलि दी. कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने शीला दीक्षित को कांग्रेस की बेटी बताया. दिल्‍ली की पूर्व सीएम और केरल की राज्‍यपाल रहीं शीला दीक्षित का देहांत 81 साल की उम्र में शनिवार दोपहर को दिल्‍ली के एस्‍कॉर्ट अस्‍पताल में कार्डियक अरेस्‍ट के कारण हुआ था. वह काफी लंबे समय से बीमार चल रही थीं. दिल्‍ली में 2 दिनों का राजकीय शोक घोषित किया गया है. 


शनिवार को हुआ था शीला दीक्षित का निधन. फाइल फोटो

बीमार चल रहीं शीला दीक्षित को शनिवार सुबह दिल्ली के एस्कार्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्‍पताल की ओर से कहा गया है कि शीला दीक्षित को दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल लाया गया था. हालत सुधरने के बाद फिर से दिल का दौरा पड़ा. शाम को 3:55 बजे उनका निधन हो गया. शीला दीक्ष‍ित की पार्थ‍िव देह के अंतिम दर्शन करने के लिए शनिवार को निजामुद्दीन स्थित उनके आवास पर पीएम मोदी और सोनिया गांधी भी पहुंची थीं. कांग्रेस और बीजेपी के सभी बड़े नेता उनके घर पर पहुंचे थे.

देखें LIVE TV

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल में राष्ट्रीय राजधानी का कायापलट कर दिया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें दिल्ली के विकास में उल्लेखनीय योगदान का श्रेय भी दिया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि दीक्षित का शहर के विकास में योगदान को हमेशा याद किया जाएगा.