close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

RPF के एएसआई को मिला 16 लाख की ज्वैलरी से भरा बैग, फिर हुआ ऐसा जिसे सुन आप भी कहेंगे वाह

ये घटना पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन की है. वहां पर एएसआई अरविंद कुमार को ये ज्वेलरी से भरा हुआ बैग मिला था.

RPF के एएसआई को मिला 16 लाख की ज्वैलरी से भरा बैग, फिर हुआ ऐसा जिसे सुन आप भी कहेंगे वाह
आरपीएफ ने बैग के मालिक को उसका बैग लौटा दिया.

नई दिल्ली: रेलवे की सुरक्षा में तैनात अरपीएफ ( रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स ) के एक एएसआई ने जो काम किया आज उसकी ईमानदारी की हर तरफ चर्चा हो रही है. पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर तैनात एक एएसआई ने करीब 16 लाख की ज्वैलरी से भरे लावारिस बैग को उसके मालिक तक पहुंचा दिया. ASI की ईमानदारी की तारीफ करते हुए आरपीएफ के सीनियर डीएससी एएन झा ने उन्हें सममानित किया.

आरपीएफ के दिल्ली डिवीजन वेस्ट डीएससी राजीव कुमार वर्मा ने बताया की हर रोज की तरह हमारा स्टाफ प्लेटफॉर्म पर गश्त कर रहा था. तभी एएसआई अरविंद कुमार को एक लावारिस बैग मिला. जब उन्होंने बैग को खोलकर देखा तो उनके होश उड़ गए. बैग ज्वैलरी से भरा हुआ था और उसमें कुछ कपड़े भी थे और एक पेंट की जेब में उसे विजिटिंग कार्ड मिला, जिसमे एक नम्बर लिखा हुआ था. उस नम्बर पर जब एएसआई ने कॉल किया तो पता चला की ये बैग विजय कुमार धरना का है, जो दिल्ली के टैगोर गार्डन में रहते हैं और लुधियाना से एक प्रोग्राम को अटेंड करने के बाद शालीमार एक्सप्रेस से दिल्ली आए थे और अपना एक बैग वहीं ट्रेन में भूल गए थे.

आरपीएफ ने बताया की बैग में एक सोने का 14 तोले का गले का सेट जिसकी कीमत करीब 4 लाख 50 हजार रुपए और सोने की तीन 15 तोले की चैन मिली. इसकी कीमत करीब 5 लाख रुपए 90 हजार रुपए है. 1 लाख 70 हज़ार रुपए की 2 डायमंड की अंगूठी के साथ 4 लाख 80 हज़ार रुपए का डायमंड का ब्रेसलेट भी मिला. इन सब की कीमत करीब 16 लाख 90 हज़ार रुपए है.

बैग के मालिक मानते हैं कि गनीमत ये रही की ये बैग किसी और शख्स के हाथ नहीं लगा नहीं तो ये बैग मिलना मुश्किल था. बैग मालिक विजय धरना  आरपीएफ को धन्यवाद कर रहे हैं.