close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दिल्ली: ATM क्लोनिंग कर लोगों को ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश

इनके पास से पुलिस ने 14 क्लोन कार्ड के साथ डाटा और पासवर्ड चुराने वाले स्किमिंग डिवाइस बरामद किया है. 

दिल्ली: ATM क्लोनिंग कर लोगों को ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश
इनके पास से पुलिस ने 14 क्लोन कार्ड के साथ डाटा और पासवर्ड चुराने वाले स्किमिंग डिवाइस बरामद किया है.

नई दिल्ली: नार्थ दिल्ली पुलिस ने एटीएम क्लोनिंग के जरिए लोगों को ठगने वाले रोमानिया के एक गैंग का पर्दाफाश किया है और 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस गिरोह में तीन महिलाएं भी शामिल हैं. इनके पास से पुलिस ने 14 क्लोन कार्ड के साथ डाटा और पासवर्ड चुराने वाले स्किमिंग डिवाइस बरामद किया है. पुलिस के मुताबिक एटीएम बूथ में घुस कर एटीएम में स्किमिंग डिवाइस को फिट करने का काम पर्दानशीं महिलाएं करती थी.

विदेशी होने की वजह एटीएम गॉर्ड इन्हें कुछ बोलते नही थे. इसके बाद पुरुष साथी फिट किये गए डिवाइस के ज़रिए लोगों के कार्ड की क्लोनिंग कर लेते थे और फिर ग्राहकों का एकाउंट खाली कर देते थे. इस तरह से इन्होंने लाखों की ठगी को अंजाम दिया है.

पुलिस को लगातार कार्ड क्लोनिंग को सूचना मिल रही थी. जांच पर कई एटीएम बूथ में ये संदिग्ध महिलायें दिखे. एटीएम की पड़ताल करने पर उनमे स्किमिंग डिवाइस मिले. इसके पुलिस ने एक प्लान के तहत सभी डिवाइस को वहीं रहने दिया. बाद में जब आरोपी उन्हें लेने आये तो पुलिस के टीम ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. 

स्किमिंग डिवाइस से कैसे होती है क्लोनिंग
स्किमिंग डिवाइस एक खास तरह के डिवाइस होती है जिसमें एटीएम की तरह से कार्ड स्वैप करने की जगह होती है. क्लोनिंग के लिए इस डिवाइस एटीएम से अटैच कर दूसरे कंप्यूटर पर मॉनिटर किया जाता है. जब ग्राहक इसमें अपना क्रेडिट या डेबिट कार्ड डालते हैं तब कार्ड की तमाम जानकारियां दूसरे कंप्यूटर पर कॉपी हो जाती है. इसके बाद दोबारा इसी या दूसरे डिवाइस में एक ब्लैंक कार्ड डालकर सारी जानकारियों की मदद से एक क्लोन कार्ड तैयार कर लिया जाता है. जानकारी के लिहाज से क्लोन किया हुआ कार्ड भी ओरिजिनल कार्ड की तरह काम करता है और इस तरह से ठगी को अंजाम दिया जाता है.