चलती मेट्रो के दरवाजे में फंस गई महिला की साड़ी, हो गया ये हाल

महिला के पति जगदीश प्रसाद ने कहा, ''गीता और मेरी बेटी नवादा से आ रही थी. मोती नगर मेट्रो स्टेशन पर उतरते समय गीता की साड़ी का पल्लू ट्रेन के दरवाजे में फंस गया और ट्रेन के दरवाजे बंद हो गए. 

चलती मेट्रो के दरवाजे में फंस गई महिला की साड़ी, हो गया ये हाल
फाइल फोटो

नई दिल्ली : दिल्ली मेट्रो में एक महिला ट्रेन से उतरते समय बाल बाल बच गई वरना वह एक बड़े हादसे का शिकार हो सकती थी.  मेट्रो के दरवाजे में एक महिला की साड़ी फंसने से वह थोड़ी दूर तक ट्रेन के साथ खींचती चली गई, जिससे उसके सिर में चोटे आईं हैं. महिला के पति जगदीश प्रसाद ने कहा, ''गीता और मेरी बेटी नवादा से आ रही थी. मोती नगर मेट्रो स्टेशन पर उतरते समय गीता की साड़ी का पल्लू ट्रेन के दरवाजे में फंस गया और ट्रेन के दरवाजे बंद हो गए. 

दिल्ली के द्वारका मेट्रो स्टेशन पर बुजुर्ग ने की आत्महत्या की कोशिश

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि ''साड़ी फंसने की वजह से गीता ट्रेन के साथ ही कुछ दूर तक खिचती हुई चली गई जिससे उसके सिर पर कुछ चोटे आ गई हैं.'' प्रसाद ने बताया कि गीता को चोट लगने के बाद नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया. उन्होंने कहा, ''मुझे मेरी बेटी ने फोन कर घटना की जानकारी दी. यात्रियों ने ट्रेन रोकने के लिए चालक को अलर्ट करने के वास्ते इमरजेंसी बटन दबा दिया.'' 

केंद्र ने मेट्रो के चौथे चरण की परियोजना में एकतरफा बदलाव किया: आप सरकार

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के वरिष्ठ अधिकारी ने मोती नगर मेट्रो स्टेशन पर घटना होने की पुष्टि की. डीएमआरसी ने एक ट्वीट में बताया कि घटना के कारण मोती नगर और राजेंद्र प्लेस स्टेशन के बीच सेवाएं थोड़ी देरे के लिए प्रभावित हुईं. दिल्ली मेट्रो की ब्लू लाइन दिल्ली के द्वारका को नोएडा इलेक्ट्रॉनिक सिटी से जोड़ती है. (इनपुटः भाषा)