सरकार ने दी OCI कार्डहोल्डर के लिए बनी गाइडलाइन में ढील, NRI को मिलेगी राहत

अप्रवासी भारतीयों को हो रही दिक्कत को देखते हुए अब भारत सरकार ने ओसीआई कार्ड होल्डर के लिए बनी गाइडलाइन में ढील दी है. 

सरकार ने दी OCI कार्डहोल्डर के लिए बनी गाइडलाइन में ढील, NRI को मिलेगी राहत
बीते कुछ दिनों पहले कई ओसीआई कार्ड होल्डर को भारत आते वक्त दिक्कतों का सामना करना पड़ा था, लिहाजा विदेश मंत्रालय ने ये कदम उठाया है.

नई दिल्ली: अप्रवासी भारतीयों को हो रही दिक्कत को देखते हुए अब भारत सरकार ने ओसीआई कार्ड होल्डर के लिए बनी गाइडलाइन में ढील दी है. भारत सरकार की तरफ से कहा गया है कि ओसीआई कार्ड होल्डर के लिए जो गाइडलाइन साल 2005 से लागू है, उनमें जून 2020 तक सख्ती से लागू न करने की ऐलान किया है. बीते कुछ दिनों पहले  कई ओसीआई कार्ड होल्डर को भारत आते वक्त दिक्कतों का सामना करना पड़ा था, लिहाजा विदेश मंत्रालय ने ये कदम उठाया है. 

अभी लागू है ये गाइडलाइन
अभी 2005 से हर बार ओसीआई कार्ड होल्डर को जब भी नया पासपोर्ट जारी कराना होता है ओसीआई कार्ड को रिइश्यू कराना होता है 20 साल की उम्र तक. ओसीआई कार्ड को 50 साल की उम्र पूरी होने पर जब आप पार्सपोर्ट लेते है तब भी रिइश्यू कराना होता है. सिर्फ ओसीआई कार्ड के फिर से इश्यू करने की जरूरत नहींं होती है. 21 साल से 50 साल के बीच जब पासपोर्ट जारी कराते हैं. लेकिन अब भारत सरकार ने तय किया है कि 30 जून 2020 तक इसमें टेंपररी रिलेक्शेसन दिया जाएगा. 

अब यदि ओसीआई कार्ड होल्डर 20 साल से कम उम्र का है और पासपोर्ट बदलते समय उसका ओसीआई कार्ड रिइश्यू नहीं हुआ है, तब भी वो यात्रा कर सकेगा. पुराने मौजूदा ओसीआई कार्ड पर मौजूद पुराने पासपोर्ट नंबर के साथ लेकिन ओसीआई कार्ड होल्डर के साथ नया पासपोर्ट होना अनिवार्य है.

इसके साथ ही जिस ओसीआई कार्ड होल्डर ने 50 की उम्र पार की है और उसका पासपोर्ट रिन्यू हुआ है लेकिन पासपोर्ट के वक्त ओसीआई कार्ड रिइश्यू नहीं हो सका है. वो भी 20 जून 2020 तक अपने मौजूदा ओसीआई कार्ड के आधार पर यात्रा कर सकेगा. लेकिन यात्रा के दौरान उसे नये पासपोर्ट के साथ ही पुराना पासपोर्ट भी रखना होगा. हालाकि, इसके साथ ही भारत सरकार की तरफ से ओसीआई कार्ड होल्डर को सलाह दी गई है कि वो आगे तय टाइम के भीतर अपने अपने ओसीआई कार्ड को रिइश्यू कराये जिससे भविष्य में उनको किसी भी प्रकार की दिकक्त न हो.

​दरअसल ओसीआई कार्ड विदेश में बसे और वहां की नागरिकता ले चुके भारतीय लोगों के लिए एक कास तरह की सुविधा भारत सरकार की तरफ से दी गई है उसी को ओसीआई कार्ड का नाम दिया गया है जिसका मतलब है ओवरसीज़ सिटीज़न ऑफ इंडिया. दुनिया के कई देशों में दोहरी नागरिकता की सुविधा है लेकिन भारतीय नागरिकता कानून के मुताबिक अगर कोई व्यक्ति किसी और देश की नागरिकता दे चुका है तो उसे अपनी भारतीय नागरिकता छोड़नी पड़ती है ऐसे लोगो की संख्या लाखों में है जो अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन जैसे देशों की नागरिकता ले चुके है लेकिन उनका भारत से लगातार जुड़ाव बना हुआ है. 

ये भी देखें: 

लिहाजा वो भारत में अपनी जड़ों से जुड़े रहे हैं. लिहाजा एक तरह की सुविधा ये भारत सरकार की तरफ से दी गई है लेकिन बीते कुछ सप्ताह से इस तरह की खबरें लगातार आ रही थी कि कई ओसीआई कार्डधारकों को जो भारत आ रहे थे अपनी यात्रा के बीच से भी वापस भेज दिया गया क्योंकि वो 2005 से लागू शर्तो को पूरा नहींं करते जिसमें पासपोर्ट रिन्यू के वक्त ही ओसीआई कार्ड को रिइश्यू कराना होता है. अब अगले साल जून तक ये सहूलियत दी गई है.