close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कर्नाटक: जेडीएस-कांग्रेस सरकार पर संकट के बादलों के बीच देवगौड़ा ने बुलाई अहम बैठक

जेडीएस की इस बैठक को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिद्धारमैया द्वारा गठबंधन तोड़ने की खबरों पर पार्टी के शीर्ष नेता चर्चा कर सकते हैं. 

कर्नाटक: जेडीएस-कांग्रेस सरकार पर संकट के बादलों के बीच देवगौड़ा ने बुलाई अहम बैठक
जेडीएस के प्रदेश अध्‍यक्ष एच विश्‍वनाथ के इस्‍तीफे पर भी मचा है पार्टी में घमासान (फोटो: ANI)

नई दिल्‍ली: कर्नाटक में जनता दल-सेक्‍युलर (जेडीएस) और कांग्रेस गठबंधन सरकार पर मंडरा रहे संकट के बादलों के बीच पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस अध्‍यक्ष एचडी देवगौड़ा ने पार्टी की अहम बैठक बुलाई है. इस बैठक को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिद्धारमैया द्वारा गठबंधन तोड़ने की खबरों पर पार्टी के शीर्ष नेता चर्चा कर सकते हैं. 

हालांकि पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने इस बैठक को लेकर कहा है कि उन्‍होंने शुक्रवार को पार्टी के नेताओं की एक बैठक बुलाई है. इस बैठक के दौरान, न ही गठबंधन सरकार पर कोई चर्चा होगी और न ही केबिनेट विस्‍तार को लेकर किसी तरह का विचार-विमर्श किया जाएगा. उन्‍होंने कहा है कि यह बैठक पार्टी के अंदरूनी मामलों पर चर्चा के लिए बुलाई गई है. 

यह भी पढ़ें: कर्नाटक: कुमारस्वामी ने अपने बेटे के वायरल वीडियो पर दी सफाई, कही यह बड़ी बात

वहीं, जेडीएस के कर्नाटक प्रदेश अध्‍यक्ष एच विश्‍वनाथ के इस्‍तीफे को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री  देवगौड़ा ने कहा है कि एच विश्‍वनाथ पार्टी छोड़ने के इच्‍छुक नहीं है. उनसे बातचीत के दौरान एच विश्‍वनाथ ने स्‍पष्‍ट किया है कि वह बतौर अध्‍यक्ष अब काम नहीं करना चाहते हैं. एचडी देवगौड़ा ने कहा कि कल की बैठक में हम उनको मनाने की कोशिश करेंगे. 

यह भी पढ़ें: लोकसभा में करारी शिकस्‍त पर बोले देवगौड़ा- हमारी पार्टी की हार अच्छे के लिए हुई

वहीं, जेडीएस के पूर्व प्रदेश अध्‍यक्ष एच विश्‍वनाथ ने कहा है कि कांग्रेस नेता सिद्धारमैया उन पर व्‍यक्तिगत निशाना साध रहे हैं. वे एक अच्‍छे राजनेता नहीं है. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने नेता रोशन बेग को निलंबित कर दिया है. अगर वे कांग्रेस में होते तो सिद्धारमैया उनके साथ भी ऐसा ही करते.