विंग कमांडर अभिनंदन का कश्‍मीर से तबादला, IAF ने की 'वीर चक्र' देने की सिफारिश

अभिनंदन वर्थमान को लेकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों द्वारा लगातार धमकियां जारी की जा रही हैं.

विंग कमांडर अभिनंदन का कश्‍मीर से तबादला, IAF ने की 'वीर चक्र' देने की सिफारिश
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना (IAF) ने विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान को वॉर टाइम गैलेंट्री मेडल 'वीर चक्र' देने की सिफारिश की है. इसके साथ ही भारतीय वायुसेना ने अभिनंदन को सुरक्षा कारणों के चलते श्रीनगर एयरबेस से ट्रांसफर कर दिया है. बताया जा रहा है कि कश्मीर घाटी में अभिनंदन की सुरक्षा को लेकर उन्हें ट्रांसफर किया गया है. न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, अभिनंदन वर्थमान को वेस्टर्न सेक्टर के किसी अहम एयरबेस पर भेजा गया है. गौरतलब है कि जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों द्वारा अभिनंदन को लेकर लगातार धमकियां जारी की जा रही हैं.

सूत्रों का कहना है कि अभिनंदन वर्थमान की बहादुरी के लिए भारतीय वायुसेना ने उन्हें 'वीर चक्र' से सम्मानित करने की सिफारिश की है. बता दें कि 'वीर चक्र' तीसरा सबसे बड़ा गैलेंट्री अवार्ड है. बताया जा रहा है कि अभिनंदन के ट्रांसफर ऑर्डर भी जारी कर दिए गए हैं. बता दें कि अभिनंदन ने छुट्टियों के दौरान अपने घर जाने की जगह श्रीनगर में ही अपने स्क्वाड्रन में रुकने का फैसला लिया था. अभिनंदन अपने परिवार के साथ श्रीनगर स्कवाड्रन में रह रहे थे.

भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान ने 27 फरवरी को देश की सीमा में घुसने की कोशिश कर रहे पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को खदेड़ने में अहम भूमिका निभाई थी. अभिनंदन ने इस दौरान पाकिस्तान के एक एफ-16 लड़ाकू विमान को भी मार गिराया था. भारतीय वायु क्षेत्र में हुई इस लड़ाई के दौरान अभिनंदन मिग 21 बाइसन विमान उड़ा रहे थे. पाकिस्तान के विमानों को खदेड़ने में उनका विमान भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. अभिनंदन इस लड़ाई के दौरान पाकिस्तान पहुंच गए थे और पाकिस्तानी सेना ने उन्हें पकड़ लिया था.   

इसके बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत सरकार की ओर से बनवाए गए वैश्विक दबाव के चलते पाकिस्तान ने अभिनंदन को 1 मार्च को रिहा कर दिया था. इस पूरे घटनाक्रम के बाद से ही अभिनंदन वर्थमान जैश-ए-मोहम्मद के निशाने पर आ गए हैं.